आजमगढ़ में जहरीली शराब का तांडव दस की मौत , 24 से ज्यादा बीमार, कई गांवों में हाहाकार

0
261

आजमगढ़। न्यूज़ डेस्क। यूपी के आजमगढ़ में अहरौला थानाक्षेत्र के माहुल कस्बे में स्थित देशी शराब की दुकान से रविवार की शाम खरीदी गई जहरीली शराब पीने से दस लोगों की मौत हो गई। 24 से अधिक लोग बीमार हैं। घटना के विरोध में लोगों ने जाम और प्रदर्शन किया। सड़क पर उतरे लोगों का धरना-प्रदर्शन शाम तक चल रहा था।

मामले में दो लोगों को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है। नगर पंचायत माहुल स्थित देशी शराब की दुकान से रविवार की शाम बेची गई शराब लोगों के लिए जानलेवा साबित हुई। यहां की शराब पीने से सोमवार शाम तक दस लोगों की मौत हो चुकी है।

जबकि 24 से अधिक बीमार लोग विभिन्न अस्पतालों में जीवन मौत से संघर्ष कर रहे हैं। बीमार लोगों में पांच की हालत अत्यंत गंभीर है। इसको देखते हुए मरने वालों की संख्या बढ़ने की आशंका से इनकार नहीं किया जा सकता।

आजमगढ़ एसपी अनुराग आर्य ने बताया कि घटना हुई है, इसकी जांच कराई जाएगी। जो भी दोषी पाया जाएगा, उसके खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई की जाएगी। पहली प्राथमिकता बीमार लोगों का बेहतर इलाज कराना है। फिलहाल दो लोगों को हिरासत में ले लिया गया है।
इन लोगों ने गंवाई जान
1. फेकू (32) निवासी माहुल, थाना अहरौला
2. झब्बू (45) निवासी माहुल, थाना अहरौला
3. रामकरन बिंद (55) निवासी माहुल, थाना अहरौला
4. अच्छेलाल (40) निवासी माहुल, थाना अहरौला
5. सतिराम (45) निवासी माहुल, थाना अहरौला
6. विक्रम बिंद (55) निवासी रसूलपुर, थाना अहरौला,
7. पंचम (60) निवासी लहुरमपुर, थाना पवई,
8. बुद्धू (50) निवासी राजापुर, थाना पवई,
9. छेदी (54) निवासी राजापुर माफी, कोतवाली फूलपुर
10. रामप्रीत (55) निवासी दक्खिनगांवा, कोतवाली फूलपुर

 

 

 

 

 

सीटी इंस्टीट्यूट ऑफ लॉ के छात्रों ने किया सेंट्रल जेल कपूरथला का दौरा

जालंधर। सौरभ बागी। छात्रों को व्यावहारिक अनुभव देने के लिए सीटी इंस्टीट्यूट ऑफ लॉ, साउथ कैंपस शाहपुर ने सेंट्रल जेल कपूरथला के दौरे का आयोजन किया। छात्रों ने एडिशनल सुप्रिडेंट हेमंत शर्मा के साथ बातचीत की। इस दौरान उन्होंने अधीक्षक के रूप में अपने अनुभव सांझे किए। इसके साथ ही उन्होने जेल के माहौल के बारे में बताया।

छात्रों में से एक छात्र ने कहा कि हम जेल के कामकाज और कैदियों की केस की कहानियों को जानने के लिए काफी उत्साहित थे। जेल में 3700 कैदी और 240 स्टाफ मैंबर थे। एडिशनल सुप्रिडेंट के साथ मिलकर उन्होंने महिला कैदियों वार्ड में निशुल्क विधिक सहायता शिविर का आयोजन किया। उन्होंने सारी महिला कैदियों ने आगे बढक़र अपनी समस्याओं पर चर्चा की और अपने अधिकारों के बारे में जानकारी हासिल की।

सीटी इंस्टिट्यूट ऑफ लॉ की प्रिंसिपल डॉ.युगदीप कौर ने कहा कि छात्रों ने जेल में कानून के मुताबिक बहुत कुछ सीखा। जेल परिसर में उजाला रेडियों स्टेशन का अविष्कार हुआ और छात्रों को इसमें काम करने का भी अनुभव प्राप्त हुआ। दिन के अंत में छात्र डीएसपी विजय कंवर पॉल से भी मिले जिन्होंने छात्रों को जेल में बंदियों के कारखानों और काम के बारे में बताया।

 

 

 

गुरु नानक कॉलेज ऑफ़ एजुकेशन , डल्लेवाल में अंतराष्ट्रीय मां बोली दिवस मनाया गया
होशियारपुर। सौरभ बागी। गुरु नानक कॉलेज ऑफ़ एजुकेशन , डल्लेवाल में अंतराष्ट्रीय मां बोली दिवस के अवसर पर अंतर कॉलेज क्विज करवाया गया। कॉलेज के कार्यकारी प्रिंसिपल नीलम राजू और प्रिंसिपल गगनदीप सिंह की अध्यक्षता में इस प्रतियोगता में गुरु नानक कॉलेज ऑफ़ एजुकेशन , गुरु नानक इंस्टिट्यूट ऑफ़ टेक्नोलॉजी , गुरु नानक इंस्टिट्यूट ऑफ़ फार्मेसी , गुरु नानक इंस्टिट्यूट ऑफ़ इंजीनियरिंग एंड मैनेजमेंट नौशहरा की टीमों ने हिस्सा लिया।
इस मुकाबले में गुरु नानक कॉलेज ऑफ़ एजुकेशन डल्लेवाल ने पहला , गुरु नानक इंस्टिट्यूट ऑफ़ टेक्नोलॉजी डल्लेवाल ने दूसरा और गुरु नानक कॉलेज ऑफ़ एजुकेशन तीसरा स्थान हासिल किया। इस मौके ग्रुप के मैनेजिंग डायरेक्टर प्रभजीत सिंह ने विजेता टीम को पुरस्कृत किया। इस मौके उन्होंने कहा हमें अपनी माँ बोली बोलनी चाहिए और हमें इस से प्यार और आदर करना चाहिए। इस मौके मंच संचालक की भूमिका प्रो इकबालप्रीत सिंह और जज की भूमिका प्रो अरुण कुमार , प्रो नीरू बाला और इंदरप्रीत सिंह ने निभाई इस मौके कैंपस का समस्त स्टाफ व् छात्र मौजूद थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here