सावधानी नहीं बरती तो डायटिंग पड़ जाएगी भारी

    0
    107

    आजकल की युवतियों में अधिक छरहरा दिखने की ललक बढ़ती जा रही है। लेकिन उन्हें यह पता होना चाहिए कि जिस प्रकार शरीर के लिए अधिक मोटापा हानिकारक होता है उसी प्रकार अधिक दुबला होना भी अच्छे स्वास्थ्य के लिए किसी भी दृष्टि से उचित नहीं होता। वैसे भी दुबले और छरहरे में फर्क है। छरहरे होने पर शरीर में आकर्षण तो होता है लेकिन दुबला होने पर नहीं।

    किसी के भी शरीर में दुबलेपन के कई कारण होते हैं। कभी-कभार तो जन्म से ही दुबलापन होता है। या फिर कम खाना, कम आयु में विवाह हो जाना, कम आयु में मां बनना अथवा शरीर में विटामिन और कैल्शियम तथा खून की कमी के साथ ही हमेशा तनाव में रहना आदि कारणों से भी शरीर में दुबलापन आता है।
    डॉक्टरों की राय में यदि आपके शरीर के कद के मुताबिक आपका वजन तीस प्रतिशत तक कम है तो आपको अपने शरीर की ओर ध्यान देना चाहिए। कई बार शरीर एनोरेसिया नरवोसा नामक बीमारी से पीडि़त हो जाता है, ऐसे में रोगी को भूख नहीं लगती और उसका शरीर दुबलेपन का शिकार हो जाता है।
    कभी-कभी छरहरी दिखने के चक्कर में बेवजह की जाने वाली डायटिंग भी शरीर के लिए लाभकारी सिद्ध नहीं होती। सिर्फ भारत में ही नहीं अपितु विश्व के कई अन्य देशों में भी युवतियां दुबली दिखने के चक्कर में उचित खानपान तथा पौष्टिक आहार से परहेज कर रही हैं। इस कारण उनके शरीर में रक्त की कमी की शिकायतें बढ़ रही हैं।
    यदि आप आकर्षक दिखना चाहती हैं तो सबसे पहले यह जान लीजिए कि आपको अपना दुबलापन दूर करना है। और दुबलापन दूर करने के लिए जरूरी है कि आप अपने खानपान में सुधार लाएं। अपने आहार में दूध, घी, मक्खन, पनीर, शहद, सूखे मेवे, ताजे फल, चावल, सोयाबीन, मूंगफली आदि को पर्याप्त मात्रा में शामिल करना शुरू करें।
    संभव हो तो अपने डॉक्टर से सलाह लेकर विटामिन ‘बी काम्पलेक्स’ व ‘विटामिन सी’ भी ले सकती हैं। विटामिन ‘बी कांम्पलेक्स’ तथा ‘विटामिन सी’ को यदि आप नियमित रूप से लेंगी तो आपको भूख भी खूब लगेगी। आपको चाहिए कि आप चाय, काफी, सिगरेट और शराब आदि का सेवन न करें और न ही ज्यादा मात्रा में उपवास और डायटिंग करें। हमेशा चिंतामुक्त रहें तथा अपने शरीर की मांसपेशियों को क्रियाशील करने के लिए प्रतिदिन सुबह-शाम को व्यायाम करें।

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here