इतिहास बना : पाकिस्तान सेना में पहली बार दो हिंदुयों को बनाया लेफ्टिनेंट कर्नल ,सोशल मीडिया पर भी हुई हलचल

0
245

नई दिल्ली। न्यूज़ डेस्क। पाकिस्तानी सेना में दो हिंदू अधिकारियों को पहली बार लेफ्टिनेंट कर्नल के पद पर पदोन्नत किया गया है। पाकिस्तान के आधिकारिक मीडिया ने इसकी जानकारी दी। यह एक ऐसा कदम है जिसने इस रूढ़िवादी मुस्लिम बहुल देश में सोशल मीडिया पर काफी रुचि पैदा की है। मीडिया रिपोर्ट्स में कहा गया है कि पाकिस्तान आर्मी प्रमोशन बोर्ड द्वारा पदोन्नति को मंजूरी दिए जाने के बाद मेजर डॉ. कैलाश कुमार और मेजर डॉ. अनिल कुमार को लेफ्टिनेंट कर्नल के पद पर पदोन्नत किया गया है। स्थानीय मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, सिंध प्रांत के थारपारकर जिले के रहने वाले कैलाश कुमार 2019 में हिंदू समुदाय से देश के पहले मेजर भी बने थे।

2008 में सेना में शामिल हुए थे कैलाश

कैलाश का जन्म 1981 में हुआ था और जमशोरो में लियाकत यूनिवर्सिटी ऑफ मेडिकल हेल्थ एंड साइंसेज से एमबीबीएस पूरा करने के बाद 2008 में एक कप्तान के रूप में पाकिस्तान सेना में शामिल हुए थे। अनिल कुमार सिंध प्रांत के बदीन के रहने वाले कैलाश से एक साल छोटे हैं। खबरों के मुताबिक, वह 2007 में पाकिस्तानी सेना में शामिल हुए थे। गुरुवार को सरकारी पाकिस्तान टेलीविजन ने कैलाश कुमार के प्रमोशन को लेकर ट्वीट किया। पीटीवी ने ट्वीट किया, कुमार लेफ्टिनेंट कर्नल के रूप में पदोन्नत होने वाले पहले हिंदू अधिकारी बन गए हैं।

पाकिस्तान में हिंदू समुदाय के अधिकारों के लिए सक्रिय प्रचारक कपिल देव ने इस खबर को उठाया। कपिल देव ने ट्वीट किया- कैलाश कुमार ने पाक सेना में लेफ्टिनेंट कर्नल के रूप में पदोन्नत होने वाले पहले हिंदू अधिकारी बनकर इतिहास रचा। बधाई हो, कैलाश!!! शुक्रवार को उन्होंने फिर से ट्विटर पर अनिल कुमार के प्रमोशन की खबर साझा की। पाक सेना में लेफ्टिनेंट कर्नल के रूप में पदोन्नत होने पर अनिल कुमार को बधाई। उन्हें और कैलाश कुमार दोनों को प्रमोशन मिला। ऐसी दुर्लभ और अच्छी खबर साझा करने का आज शानदार दिन है।

अभी तक प्रमोशन की आधिकारिक पुष्टि नहीं

अभी तक दोनों प्रमोशन के बारे में कोई आधिकारिक पुष्टि नहीं हुई है। हिंदुओं और अन्य अल्पसंख्यक समुदायों के लोगों को 2000 तक पाकिस्तान सेना में शामिल होने की अनुमति नहीं थी। हिंदू पाकिस्तान में सबसे बड़ा अल्पसंख्यक समुदाय हैं। आधिकारिक अनुमान के मुताबिक देश में करीब 75 लाख हिंदू रहते हैं। पाकिस्तान की अधिकांश हिंदू आबादी सिंध प्रांत में बसी है जहां वे मुस्लिमों के साथ संस्कृति, परंपरा और भाषा साझा करते हैं।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here