पंजाब में पहली बार जेलों में बंद कैदियों का होगा डोप टैस्ट

0
55

बठिंडा: केंद्रीय जेलों में नशे को पूर्ण तौर पर रोकने के लिए पंजाब सरकार की ओर से प्रदेश की सभी जेलों में बंद आरोपियों का डोप टेस्ट करवाया जा रहा। पहले पड़ाव के तहत नाभा, मानसा, बरनाला, अमृतसर, मलेरकोटला, फाजिल्का, होशियारपुर की जेलों में बंद हवालातियों और कैदियों का डोप टेस्ट किया जा चुका है। हालांकि सूत्रों ने यह स्पष्ट नहीं किया कि जिन जिलों की जेलों में बंद आरोपियों का डोप टेस्ट किया गया उनमें कितने नेगेटिव और पॉजिटिव आए है। जेलों में बंद हवालातियों और कैदियों का डोप टेस्ट करवाए जाने संबंधी पंजाब जेलों के एडीजीपी हरप्रीत सिंह सिद्धू ने पुष्टि की है।

सूत्रों ने एक्सक्लूसिव जानकारी देते हुए बताया कि 23,24 जुलाई को बठिंडा की केंद्रीय जेल में बंद हवालातियों और कैदियों का डोप टेस्ट होगा। इसके लिए सिविल सर्जन कार्यालय की एक टीम को विशेष तौर पर तैयार किया गया है। जो जेल के अंदर जाकर कैदियों और हवालातियों का डोप टेस्ट करेगी। उक्त जेल में करीब 2 हजार हवालाती और कैदी बंद है।  इस जेल में 66 के करीब बड़े गैंगस्टर भी बंद है। जो पंजाब के अलग अलग जिलों से संबंधित है। जेल में खतरनाक गैंगस्ट्रो को अति सुरक्षा वाले जोन में रखा गया है। सूत्रों ने बताया कि जेल में बंद सभी गैंगस्टर का डोप टेस्ट होगा। इसके लिए जेल प्रशासन की तरफ से पूरी तैयारी कर ली गई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here