रिश्वत लेने का मामला, ड्रग इंस्पेक्टर बबलीन कौर को जेल भेजा

0
76

अमृतसर: अमृतसर विजिलेंस बॉर्डर रेंज के अंतर्गत आते 2 जिलों में बतौर ड्रग इंस्पेक्टर तैनात बबलीन कौर को आज जेल भेज दिया गया। विजिलेंस टीम ने महिला ड्रग इंस्पेक्टर को भ्रष्टाचार के मामले में गिरफ्तार कर आपराधिक मामला दर्ज किया था। इसके बाद आरोपी का अदालत से रिमांड लिया गया था जिसका समय समाप्त हो जाने के बाद अदालत ने विजेलेंस को और रिमांड न देते हुए बबलीन कौर को जेल भेजने के निर्देश दिए।

महिला अधिकारी पर आरोप था कि उसने पठानकोट के मामून क्षेत्र में अरुण शर्मा नामक व्यक्ति को मैडीकल स्टोर का लाइसेंस बनाने के इंकार कर दिया था। जब शिकायतकर्ता ने इसकी वजह पूछी तो उसने कहा कि इस मामले में राकेश कुमार से बात कर ली जाए। इस काम के लिए एक लाख रुपए रिश्वत की मांग की थी, लेकिन लाइसेंस लेने वाला अरुण शर्मा इतने पैसे देने को तैयार नहीं था।

दूसरी तरफ कम पैसे पर लाइसेंस बनाने के लिए आरोपी तैयार नहीं थे तो आखिरकार थोड़ी रियायत करते हुए 90 हजार रुपए में सौदा हुआ था। इस रकम को 3 किस्तों में देना तय हुआ। शिकायतकर्ता ने इस मामले को लेकर एस.एस.पी. विजिलेंस वरिंदर सिंह संधू को जानकारी दे दी। वायदे के मुताबिक पहली किस्त के तौर पर 30 हजार रुपए राकेश कुमार नामक वर्कर को अदा करने थे। यह वर्कर महिला ड्रग इंस्पेक्टर का परिचित था और कभी उसके साथ काम भी कर चुका था।

शिकायतकर्ता ने जब कर्मचारी राकेश कुमार को 30 हजार रुपए रिश्वत की रकम दी तो विजिलेंस टीम ने ट्रैप लगाकर रंगे हाथ गिरफ्तार कर लिया। इसी दौरान आरोपी ने विजिलेंस टीम को बताया कि यह रकम उसने इंस्पेक्टर बबलीन कौर के कहने के मुताबिक ली थी, जिसके प्रमाण विजिलेंस को मिल चुके थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here