अपनी मां बोली व अपनी मिट्टी से जुड़े रहने से ही सभ्यता रहती है जीवित: परमजीत सिंह सचदेवा

0
378

होशियारपुर । मां बोली पंजाबी को प्रोत्साहित करने का संदेश प्रसारित करने विभिन्न स्थानों की यात्रा पर निकले तेजिंदर सिंह का होशियारपुर पहुंचने पर स्वागत किया गया। इस मौके पर सचदेवा स्टॉक बुल्लांबाड़ी में तेजिंदर सिंह का शहर निवासियों ने समाज सेवक व समाज चिंतक परमजीत सिंह सचदेवा की अगुवाई में उनका स्वागत किया। इस मौके पर तेजिंदर सिंह ने बताया कि देश के बंटवारे के उपरांत पंजाब को भी बांट दिया गया। हमारी मां बोली पंजाबी का सम्मान और इसके प्रति लोगों में रुचि बनी रहे इसके लिए वह यात्रा पर निकले हैं और जहां भी जा रहे हैं वहां पर मां बोली से जुडऩे तथा इसे बोलने एवं इसमें काम करने का संदेश दे रहे हैं। उन्हें खुशी है कि आज हमारी युवा पीढ़ी मां बोली पंजाबी के साथ जुड़ रही है तथा इसके प्रचार एवं प्रसार में लगी है। इस मौके पर तेजिंदर सिंह का स्वागत करते हुए श्री सचदेवा ने कहा कि अपने देश की मिट्टी, देश की संस्कृति और बोली से जोड़े रहना ही हमें हमारी सभ्यता से जोड़े रखता है। उन्होंने कहा कि तेजिंदर सिंह द्वारा किया जा रहा प्रयास सराहनीय है तथा हम सभी को इनके इस मिशन में सहयोग करना चाहिए ताकि मां बोली पंजाबी को उसका बनता सम्मान दिलाया जा सके। इसके साथ ही हमारी आने वाली पीढिय़ां भी अपनी मां बोली से जुड़ी रहें इसके लिए ऐसे प्रयास किए जाने बहुत जरुरी हैं। उन्होंने तेजिंदर सिंह को मिशन की कामयाबी के लिए शुभकामनाएं भेंट की। इस मौके पर सीए तरनजीत सिंह, बलराज सिंह चौहान, मुनीर नाजर, उत्तमजीत सिंह, आयुश शर्मा, तरलोचन सैनी, मनी सिंह, मनी गोगिया, शरनदीप सिंह, आशंकदीप सिंह, सूर्या पुरी व दलबीर सिंह आदि मौजूद थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here