शिअद प्रत्याशी के भाई को बैंक धोखाधड़ी के एक मामले में किया गिरफ्तार

0
274

फाजिल्का। न्यूज़ डेस्क। फाजिल्का से शिअद प्रत्याशी के तौर पर चुनाव लड़ रहे हंसराज जोसन के चचेरे भाई सुमेर चंद जोसन को जलालाबाद पुलिस ने रविवार को 2018 में हुए बैंक धोखाधड़ी के एक मामले में गिरफ्तार किया है, जबकि इस केस में अन्य आरोपी फरार चल रहे हैं। आरोपी को कोर्ट में पेश किया गया, जहां से उसे एक दिन के पुलिस रिमांड पर भेजा गया। जिसके बाद सोमवार को फिर आरोपी को कोर्ट में पेश किया गया। जहां आरोपी का कोरोना टेस्ट करवाकर रिपोर्ट निगेटिव आने पर 14 दिन के न्यायिक हिरासत में भेजने का आदेश दिया गया है।

यह है मामला
एएसआई करनैल सिंह ने बताया कि उन्हें एसबीआई मुक्तसर के चीफ मैनेजर रछपाल सिद्धू ने शिकायत दी थी कि रिशव राइस मिल्स जलालाबाद रोड मुक्तसर साहिब के हिस्सेदार रमन जोसन निवासी सोतरिया वाला (बंदीवाला) और अमनदीप जोसन निवासी जलालाबाद ने फर्म के नाम पर एसबीआई की मुख्य शाखा मुक्तसर से 2010 में 6 करोड़ रुपये की सीसी लिमिट व लोन के बदले 2 करोड़ 70 लाख रुपये का टर्म लोन मंजूर करवाया था।

इस संबंध में बैंक ने लोन लिमिट के बदले रिशव राइस मिल की मशीनरी, स्टाक, बिल्डिंग और लैंड 24 कनाल 15 मरले जमीन गांव सदर सिंह वाला मुक्तसर में मोरटगेजड के जरिये गिरवी रखी थी। इसके अलावा सुभाष चंद्र, संजीव कुमार, हरजिंदर कुमार, सुमेर चंद, शुशपाल, सुनील कुमार निवासी चक्क सौतरिया (बंदीवाला) ने बतौर गारंटर 117 कनाल 13 मरले जमीन आड़ रहन एसबीआई मेन ब्रांच के पास की थी। उसके बाद मिल के हिस्सेदारों ने मिलकर फर्जी सर्टिफिकेट तैयार कर जमीन आगे बेच दी। वहीं गारंटर सुभाष चंद्र, संजीव कुमार, हरजिंदर कुमार, सुमेर चंद, शुशपाल, सुनील कुमार निवासी चक्क सौतरिया (बंदीवाला) ने फर्जी क्लीयर सर्टिफिकेट तैयार करके धोखाधड़ी की है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here