अर्पिता मुखर्जी ED की पूछताछ में घबराई, कल रात से रो रही, बोली- सभी पैसे पार्थ चटर्जी के हैं

0
58

नई दिल्ली: प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने अर्पिता मुखर्जी से संबद्ध एक अपार्टमेंट से भारी मात्रा में सोने के आभूषण और 27.9 करोड़ रुपये की नकदी बरामद की है। मुखर्जी को पश्चिम बंगाल के गिरफ्तार किए गए मंत्री पार्थ चटर्जी की करीबी सहयोगी माना जाता है। अधिकारियों ने बृहस्पतिवार सुबह बताया कि बुधवार को बेलघरिया में एक अपार्टमेंट से नकदी बरामद की गयी और रातभर गिनती करने के बाद 27.90 करोड़ रुपये पाए गए।

वहीं ED की पूछताछ में अर्पिता मुखर्जी ने कई अहम खुलासे किए। ईडी के कबूलनामे में अर्पिता मुखर्जी ने कहा है कि जो भी पैसे बरामद हुए हैं वो सभी पार्थ चटर्जी के पैसे हैं। उन्होंने दावा किया कि उनके ही आदमी यहां पैसे लाकर रखते थे और कभी कभी वह खुद भी आते थे। जानकारी के मुताबिक अर्पिता मुखर्जी कल रात से रो रही हैं। ईडी की पूछताछ के बाद वो टूट गई हैं।   उन्होंने खुद को निर्दोष बताते हुए कहा कि मुझे इस बारे में कुछ नहीं पता है। मुझे उस कमरे में भी जाने नहीं दिया जाता था।

जानकारी के लिए बता दें कि ED अधिकारी शिक्षक भर्ती घोटले जांच में जुटी हुई है।  27.9 करोड़ रुपये की नकदी बरामद होने के साथ साथ सोने के आभूषण की कीमत का पता लगा रहे हैं। जांच एजेंसी ने पांच दिन पहले दक्षिण कोलकाता के टॉलीगंज इलाके में मुखर्जी के एक अन्य फ्लैट से आभूषण और विदेशी मुद्रा के अलावा 21 करोड़ रुपये से अधिक की नकदी बरामद की थी। अधिकारियों ने बताया कि कुल मिलाकर अभी तक 50 करोड़ रुपये की नकदी बरामद की गयी है। ईडी अधिकारियों ने बुधवार को दक्षिण कोलकाता के राजदांगा और उत्तरी कोलकाता के बेलघरिया में विभिन्न ठिकानों पर छापे मारे थे।

गौरतलब है कि कलकत्ता उच्च न्यायालय के निर्देश पर केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो (सीबीआई) पश्चिम बंगाल स्कूल सेवा आयोग की अनुशंसा पर सरकारी सहायता प्राप्त स्कूलों में समूह ‘ग’ और ‘घ’ वर्ग के कर्मचारियों और शिक्षकों की भर्ती में हुई कथित अनियमितता की जांच कर रही है। वहीं, ईडी घोटाले में धनशोधन की जांच कर रहा है। उल्लेखनीय है कि जब यह कथित घोटाला हुआ था, उस समय पार्थ चटर्जी राज्य के शिक्षामंत्री थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here