अमेरिका: आंखों की रोशनी बढ़ाने पहले आई ड्रॉप को दी मंजूरी

0
59

न्यूयार्कः उम्र के साथ हमारी आंखें  लचीलापन व रोशनी खो देती हैं और देखने व पढ़ने  में चुनौतियां आने लगती हैं। यह तब होता है जब हमें प्रेसबायोपिया हो जाता है। ऐसा आमतौर पर र 40 साल की उम्र के बाद शुरू होता है और पढ़ने के लिए ध्यान केंद्रित करने में परेशानी होती है और अंत में पढ़ने के चश्मे की आवश्यकता होने लगती है। यह काफी सामान्य है और दुनिया भर में लगभग 1.8 बिलियन लोग प्रेसबायोपिया से पीड़ित हैं। लेकिन अब एक ऐसा आई ड्रॉप आया है जो आपके पढ़ने के चश्मे की जगह ले सकता है?

यूनाइटेड स्टेट्स फूड एंड ड्रग एडमिनिस्ट्रेशन (US FDA) ने हाल ही में उम्र से संबंधित निकट दृष्टि में सुधार के लिए पहली आई ड्रॉप को मंजूरी दी है। Vuity एक आई ड्रॉप सॉल्यूशन है जिसे  पूरे दिन बेहतर दृष्टि के लिए नियमित उपयोग किया  जा सकता है । FDA की हिदायतों के अनुसार  Vuity  आई ड्रॉप को प्रत्येक आंख पर प्रतिदिन एक बूंद लगाने की सलाह दी जाती है। डालने के 15 मिनट बाद बूँदें काम करना शुरू कर देती हैं और इनका प्रभाव लगभग छह घंटे तक रहता है। Vuity  आई ड्रॉप  के नियमित प्रयोग से अब आपको हर जगह अपने पढ़ने के चश्मे की आवश्यकता नहीं होगी। ड्रॉप 40 से 55 वर्ष की आयु के लोगों में सबसे प्रभावी है, जो दैनिक कार्यों को करते समय स्पष्ट रूप से देखने के लिए संघर्ष करते हैं – जैसे कि आपका फोन या कंप्यूटर स्क्रीन पढ़ना।

PunjabKesari

Vuity  को पाइलोकार्पिन के नाम से भी जाना जाता है। शोधकर्ताओं ने आई ड्रॉप को आंसू  के पीएच में तेजी से समायोजित करने की अनुमति देने के लिए प्रौद्योगिकी का उपयोग किया। वीयूटी ड्राप हमारी आंखों की पुतली के आकार को कम करने की क्षमता में सुधार करती है ।  प्रत्येक पैकिंग में लगभग 30 दिनों  की दवा रहती है और 30 दिनों के उपयोग के बाद ड्रॉप की प्रभावशीलता बढ़ जाएगी। Vuity  आई ड्रॉप  को मंजूरी देने से पहले  40 से 55 वर्ष की आयु के प्रेसबायोपिया वाले 750 लोगों पर इसका परीक्षण कियागया ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here