21 देशों में हुए स्टडी के अनुसार, डेस्क वर्क करने वाले लोगों में ज्यादा होता है Heart Disease का खतरा

0
59

हैलथ : चाइनीज एकेडमी ऑफ मेडिकल साइंसेज और पेकिंग यूनियन मेडिकल कॉलेज द्वारा किए गए एक अध्ययन के अनुसार, जो कर्मचारी दिन में आठ घंटे अपने डेस्क पर बैठते हैं, उनमें दिल का दौरा या स्ट्रोक होने की संभावना 20% अधिक होती है। 11 वर्षों के दौरान, शोधकर्ताओं ने 21 देशों के 105,677 लोगों के रिकॉर्ड की जांच की। अध्ययन के अंत में पाया गया कि लगभग 6,200 से अधिक लोगों की मृत्यु हो चुकी थी। जिसमें से 2,300 दिल के दौरे, 3,000 स्ट्रोक और हार्ट फेल के 700 मामले थे।

इसके प्रकोप से भारत भी नहीं बचा हुआ है। साइलेंट किलर रूप में तेजी सेफेलता हृदय रोग की तरह है जो देश में मृत्यु के प्रमुख कारणों में से एक हैं। सार्वजनिक स्वास्थ्य अनुमानों के अनुसार, विश्व के कुल हृदय रोग के मामले का 60 प्रतिशत हिस्सा अकेले भारत का है। इसमें सबसे ज्यादा इस्केमिक, हाई ब्लड प्रेशर और रक्त धमनियों से संबंधित रोग शामिल हैं।

शोधकर्ताओं ने सुझाया बचाव का तरीका
शोधकर्ताओं ने बताया कि एक कर्मचारी द्वारा डेस्क पर बिताए जाने वाले समय को कम करने और शारीरिक गतिविधि बढ़ाने के साथ धूम्रपान जैसी आदतों को छोड़ने से इस खतरे को कम किया जा सकता है। अध्ययनों से पता चला है कि लंबे समय तक बैठने के साथ-साथ शारीरिक गतिविधि की कमी के कारण 8.8% मौतें और 5.8% हृदय रोग के मामले सामने आए हैं। इसलिए डॉक्टर लोगों को काम के बीच में नियमित ब्रेक लेने की सलाह देते हैं।

​लंबे समय तक बैठने से होने वाली अन्य स्वास्थ्य समस्याएं
अधिक घंटों तक बैठने से व्यक्ति के पॉश्चर, मेंटल हेल्थ और तनाव का स्तर भी प्रभावित होता है। मोटापा, हाई ब्लड प्रेशर, मधुमेह, हाई कोलेस्ट्रॉल ऑस्टियोआर्थराइटिस जैसे अन्य स्वास्थ्य संबंधी परेशानियों का खतरा भी बना रहता है।
​नेक स्ट्रेचिंग है फायदेमंद

यह खड़े और बैठे दोनों स्थिति में किया जा सकता है, बस सिर को बाईं ओर और फिर दाईं ओर झुकाने की जरूरत है। ज्यादा बेहतर अनुभव के लिए आप कुर्सी के किनारे को पकड़कर नेक स्ट्रेच कर सकते हैं।

​शोल्डर श्रग करने से मिलेगी राहत
ऐसा करने के लिए, अपने कंधों को ऊपर उठाएं, कुछ सेकंड के लिए इसी अवस्था में रहें और फिर उन्हें वापस नीचे लाएं। ऐसा ही 4-5 बार दोहराएं। कंधों में पैदा हुए तनाव को दूर करने के लिए आप कंधों को आगे और पीछे भी घुमा सकते हैं।

टोर्सो स्ट्रेचिंग से रहेंगे तनाव मुक्त
बैठे हुए लैपटॉप पर लगातार काम करने से आपको धड़ में तनाव महसुस हो सकाता है। इसे दूर करने के लिए उंगलियों को आपस में मिला लें और अपनी बाहों को छत की ओर फैलाएं। ऐसा करते समय गहरी सांस लें और बाजुओं को नीचे लाएं और सांस छोड़ें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here