8 महीने से इंसाफ के इंतजार में है शरणजीत, दहेज लोभी ससुरालियों ने की थी जलाने की कोशिश

    0
    52

    जनगाथा /जालंधर / शरणजीत निवासी बिल्ली चहरनी जोकि मूल रूप से इंगलैंड की रहने वाली है, ने आज एक प्रैस वार्ता कर अपने साथ हुई घटना के बारे में बताया। इस दौरान उसका साथ देने के लिए आम आदमी पार्टी के नेता एच.एस. वालिया व अन्य कार्यकत्र्ता भी मौजूद रहे।

    शरणजीत ने बताया कि 2011 में उसकी शादी बिल्ली चहरनी के शमिंद्र सिंह से हुई थी। शादी के एक माह बाद वह अकेले इंगलैंड चली गई और बाद में कागजी कार्रवाई करके अपने पति को भी इंगलैंड बुला लिया तथा उसे भी वहां की पी.आर. मिल गई। वह हर वर्ष अपने पतिके साथ उसके गांव आती थी। इस दौरान उसके ससुराल पक्ष वाले उसे दहेज के लिए प्रताडि़त करते जिसकी सूचना उसने अपने ताया ज्वाला सिंह व अजैब सिंह को दी। इस पर उन्होंने पंचायत इकट्ठी करके उसके ससुराल पक्ष को समझाने की कोशिश की लेकिन इसके बाद भी ससुराल पक्ष का दहेज लोभ नहीं मिटा।

    इसके चलते 30 मई 2016 को उसके पति शमिंद्र सिंह, ससुर जोगिंद्र सिंह, सास राजविंद्र सिंह, बहनोई मंदीप व ननद नवजोत कौर ने मिट्टी का तेल डालकर उसे जलाने की कोशिश की। उसने खुद को और अपने बेटे को कमरे में बंद कर अपनी जान बचाई तथा अपने ताया को इसकी जानकारी दी। उन्होंने बताया कि इस बारे 31 मई को एफ.आई.आर. दर्ज करवाई गई थी लेकिन 8 माह बाद भी इंसाफ नहीं मिल पाया।

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here