रोपड़ और लहरा में 3 दिन का स्टाक बचा, काेयला संकट से बिजली की मांग बढ़ी

0
72

पटियाला : पंजाब में बिजली संकट और गहरा सकता है। पावरकाम के सामने बिजली की मांग को पूरा करने चुनौती लगातार बनी हुई है। कोयला संकट भी बरकरार है। नतीजतन रोजाना बाहर से काफी ज्यादा बिजली खरीदनी पड़ रही है। बुधवार को पावरकाम ने 9784 मेगावाट बिजली सप्लाई की जबकि राज्य में बिजली की मांग 10,392 मेगावाट रही। मांग ज्यादा होने के कारण पावरकाम ने दूसरे राज्यों से 5.96 रुपये प्रति यूनिट की दर से करीब 25 करोड़ रुपये की बिजली खरीदी।

चार पावर प्लांटाें में कोयला स्टाक की स्थिति नाजुक

दूसरी ओर पंजाब के सरकारी और प्राइवेट सेक्टर के पांचों थर्मल प्लांटों में से चार में कोयला स्टाक की स्थिति नाजुक बनी हुई है। इनमें सबसे ज्यादा खराब स्थिति रोपड़ और लहरा मोहब्बत प्लांटों की है। रोपड़ में जहां 4 दिन लायक कोयला बचा है। वहीं लहरा में महज 3 दिन लायक कोयला है। उधर गोइंदवाल साहिब में भी सिर्फ 4 दिन, तलवंडी साबो में 6.8 दिन लायक कोयला बचा है। इसके चलते राज्य के कई जिलाें में  पानी की आपूर्ति भी प्रभावित हाे रही है।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here