Select Page

बैंक घोटाले पर राहुल का केंद्र से सवाल, अनुराग ठाकुर बोले- ‘कुछ लोग अपने पाप दूसरों पर मढ़ना चाहते है’

बैंक घोटाले पर राहुल का केंद्र से सवाल, अनुराग ठाकुर बोले- ‘कुछ लोग अपने पाप दूसरों पर मढ़ना चाहते है’

नई दिल्ली, जनगाथा टाइम्स: (सिमरन)

नई दिल्ली: लोकसभा में कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने बैंक घोटाले को लेकर केंद्र सरकार पर सवाल उठाया है. सदन की कार्यवाही के दौरान उन्होंने केंद्र सरकार से बैंक लूटने वालों पर कार्रवाई करने की मांग की. उन्होंने केंद्र से पूछा, ‘देश में 50 बड़े डिफॉल्टर कौन हैं, पीएम मोदी उनके नाम बताएं. जिन्होंने बैंक लूटने का काम किया है, उनके खिलाफ जल्द से जल्द कार्रवाई करें.’

राहुल गांधी ने सवाल किया, ‘पीएम कहते हैं कि जिन लोगों ने हिन्दुस्तान के बैंकों से चोरी की है तो उनको वापस लाउंगा. पीएम से 50 नाम पूछें…अभी तक जवाब नहीं मिला.’ लोकसभा में विपक्ष के नेता नारे लगाते रहे, वी वॉन्ट जस्टिस….वी वॉन्ट जस्टिस. राहुल गांधी के सवाल पूछने के बाद से हंगामा चल रहा है स्लोगन के साथ कह रहे हैं, ‘नाम बताओ नाम बताओ.’

राहुल गांधी को अनुराग ठाकुर ने दिया जवाब:

बीजेपी की तरफ से राहुल गांधी केसवालों का जवाब देने के लिए वित्त राज्य मंत्री अनुराग ठाकुर सामने आए, अनुराग ठाकुर ने कहा, ‘जिस तरह से खराब तरीके से प्रश्न पूछा गया. अगर सवाल पूछा है तो उत्तर सुनिए. 2010 – 14 तक जो एडवांस दिए गए हैं, वो कितने फ्रॉड होते थे. ये क्यों हुआ, 18% एडवांस ग्रोथ रेट दिया जाता था और फ्रॉड होते थे. 50 फ्रॉड की बात…सीआईसी के विलफुट डिफॉल्टर के नाम दिए जाते हैं. कुछ लोग अपने किए गए पापों को दूसरों पर मढ़ना चाहते हैं वो हम होने नहीं देंगे….

अगर आप नाम पढ़ना चाहते हैं तो सभा पटल पर रख सकता हूं, नाम भी पढ़ सकता हूं. पैसा इन्होंने बांटा, हमने रिवकरी का काम किया. जो भगौड़े इनके समय में भागे से उनसे. मैं ये नहीं कहना चाहता हूं कि पैसा किसके खाते में गया…यस बैंक का हर डिपोजिट सुरक्षित है. फोटोग्राफ में इनके साथ पूर्व वित्त मंत्री नजर आए. पेंटिंग इन्होंने बिकवाई.’

अनुराग ठाकुर ने कहा, ‘विलफुल डिफॉल्टर्स की लिस्ट वेबसाइट पर उपलब्ध है. इसमें छिपाने का कुछ भी नहीं है. ये सभी लोग कांग्रेस के कार्यकाल में पैसा लेकर भागे हैं. जिस तरह का सवाल कांग्रेस के वरिष्ठ सांसद ने उठाया है उससे पता चलता है कि उन्हें इस विषय के बारे में कितनी जानकारी है.’

राहुल गांधी ने सदन से बाहर आने के बाद मीडिया से बात करते हुए कहा, ‘मैंने विलफुल डिफॉल्टर से जुड़ा बहुत ही सरल प्रश्न पूछा था. लेकिन मुझे कोई उत्तर नहीं मिला. मैं जिस बात से सबसे ज्यादा दुखी हुआ वह यह थी कि स्पीकर ने मुझे दूसरा प्रश्न पूछने की अनुमति ही नहीं दी, जो सांसद होने के नाते मेरा अधिकार है.’

About The Author

Leave a reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *