Select Page

8 उम्मीदवारों के लिए 15 लाख 79 हजार 618 वोटर करेंगे वोट के अधिकार का प्रयोग

8 उम्मीदवारों के लिए 15 लाख 79 हजार 618 वोटर करेंगे वोट के अधिकार का प्रयोग
होशियारपुर (रुपिंदर ) जिला चुनाव अधिकारी-कम- डिप्टी कमिश्नर श्रीमती ईशा कालिया ने कहा कि 05 -होशियारपुर लोक सभा क्षेत्र में अलग -अलग राजनीतिक दलों के 8 उम्मीदवार चुनाव लड़ रहे हैं, जिनके लिए 19 मई को 15 लाख 79 हजार 618 वोटर वोट के अधिकार का प्रयोग करेंगे। उन्होंने वोटरों से अपील करते हुए कहा कि वे वोट के अधिकार का प्रयोग कर  लोकतंत्र के महा त्यौहार में अधिक से अधिक शमूलियत करें। उन्होंने बताया कि सुबह 7 बजे से सांय 6 बजे तक मतदान होगा और सभी वोटर एक जिम्मेदार नागरिक की तरह बिना डर व लालच के मतदान करें। उन्होंने बताया कि वोटों की गिनती 23 मई को होगी।
 जिला चुनाव अधिकारी ने बताया कि होशियारपुर लोक सभा क्षेत्र के अंतर्गत आते 9 विधान सभा क्षेत्रों श्री हरगोबिंदपुर के 1,76,556, भुलत्थ के 1,35,628, फगवाड़ा के 1,84,829, मुकेरियां के 1,95,503, दसूहा के 1,91,762, उड़मुड़ के 1,77,747, शाम चौरासी के 1,74,273, होशियारपुर के 1,82,835 और चब्बेवाल के 1,60,485 सहित 15 लाख 79 हजार 618 वोटर अपने वोट के अधिकार का प्रयोग करेंगे। उन्होंने बताया कि उक्त 9 विधान सभा क्षेत्रों में 7,65,090 महिलाएं , 8,14,498 पुरु ष और 30 थर्ड जैंडर वोटर हैं, जबकि जिला होशियारपुर के 18 -19 साल के 26,743 नौजवान वोटर वोट के अधिकार का प्रयोग करेंगे। उन्होंने बताया कि इनके अलावा जिले के 7 विधान सभा क्षेत्रों में 10,179 दिव्यांगजन वोटर हैं, जिनको पोलिंग बूथों पर विशेष सुविधाएं प्रदान की जाएंगी। उन्होंने बताया कि हर बूथ पर दिव्यांगजन के लिए जहां विशेष तौर पर रैंप बनाए गए हैं, वहीं दिव्यांगजन की मदद के लिए वालंटियर्ज, व्हीलचेयर आदि का प्रबंध किया गया है। इसके अलावा दिव्यांगजन को पोलिंग बूथों पर लाने और वापिस ले जाने के लिए भी वाहनों का विशेष प्रबंध किया गया है। उन्होंने बताया कि विधान सभा क्षेत्रों में से हर क्षेत्र में 2 पिंक पोलिंग बूथ होंगे, जहां सारा चुनावी स्टाफ महिलाओं का होगा। इसके अलावा एक पोलिंग बूथ पर्सन विद डिसेबिलीटी(पी.डबल्यू.डी.) का होगा, जबकि हर विधान सभा क्षेत्र में 5 माडल पोलिंग स्थापित किए गए हैं।
 श्रीमती ईशा कालिया ने बताया कि जिले के 1521 पोलिंग बूथों सहित होशियारपुर लोक सभा क्षेत्र में 1911 पोलिंग बूथ बनाए जाएंगे। उन्होंने बताया कि 1521 पोलिंग पार्टियां जिले के पोलिंग बूथों के लिए रवाना हो चुकी हैं। उन्होंने पोलिंग पार्टियों का उत्साह बढ़ाते हुए कहा कि वह पूरी जिम्मेदारी के साथ वोट प्रक्रिया को संपन्न करने के लिए ड्यूटी निभाएं। उन्होंने बताया कि भारतीय चुनाव आयोग की हिदायतों के मुताबिक जिले का कुल 7172 पोलिंग स्टाफ वोट प्रक्रिया को संपन्न करवाएगा। उन्होंने बताया कि चुनाव आयोग की ओर से वोटर पहचान के सबूत के तौर पर 11 दस्तावेजों को मंजूरी दी गई है। उन्होंने बताया कि वोटर पहचान पत्र के अलावा जो 11 दस्तावेज मतदान केंद्र पर पहचान के लिए इस्तेमाल करे जा सकते हैं, उनमें सरकारी पहचान पत्र, केंद्र /प्रदेश सरकार  सार्वजनिक क्षेत्र के संंस्थानों या पब्लिक लिमिटेड कंपनियों द्वारा अपने कर्मचारियों को जारी सर्विस पहचान पत्र, मगनरेगा जॉब कार्ड, पासपोर्ट, पैन कार्ड, बैंकों /डाकखाने द्वारा जारी फोटो सहित पास बुक, पैंशन दस्तावेज, आधार कार्ड, ड्राइविंग लाइसेंस, स्वास्थ्य बीमा स्मार्ट कार्ड, स्मार्ट कार्ड दिखा कर भी वोट डाल सकते हैं।
 जिला चुनाव अधिकारी ने बताया कि लोक सभा मतदान के दौरान भारतीय चुनाव आयोग की हिदायतों पर पहली बार ई.वी.एम. और वी.वी.पी.ए.टी. मशीने ले जाने वाले वाहनों पर जी.पी.एस. डिवाइस लगाए गए हैं, जिससे मशीने ले जाने वाले वाहनों पर नजर रखी जा सकेगी। उन्होंने बताया कि लोक सभा क्षेत्र होशियारपुर के 1911 पोलिंग बूथों में से 50 प्रतिशत बूथों पर वेब कास्टिंग का प्रबंध किया गया है। उन्होंने कहा कि पहली बार किए जा रहे ऐसे प्रयास संवेदनशील व अति -संवेदनशील बूथें पर मतदान प्रक्रिया दौैरान निगरानी रखी जाएगी।
 जिला चुनाव अधिकारी ने बताया कि राजनीतिक दल अपने बूथ पोलिंग स्टेशनों से 200 मीटर की दूरी पर लगाएं , जहां एक टेबल और दो कुर्सियों ही लगाई जा सकतीं हैं। उन्होंने कहा कि पोलिंग स्टेशन के अंदर प्रीजाइडिंग अधिकारी के अलावा किसी को भी मोबाइल फोन का प्रयोग करने की आज्ञा नहीं होगी। उन्होंने कहा कि बिना पहचान पत्र के काउंटिंग एजेंट को काउंटिंग सैंटर में जाने की आज्ञा नहीं होगी। उन्होंने बताया कि मतदान के दौरान अमन और कानून की स्थिति को बहाल रखने के लिए 19 मई सांय 6 बजे मतदान वाले दिन तक ड्राई डे घोषित किया गया है। इसके अलावा 23 मई को वोटों की संख्या वाले दिन पूरा दिन ड्राई डे रहेगा। उन्होंने बताया कि 19 मई को पोलिंग का समय सुबह 7 बजे से सांय 6 बजे तक होगा और मॉक पोल सुबह 6 बजे शुरू होगी, इस लिए राजनीतिक दल पोलिंग एजेंटों को मॉक पोल शुरू होने से 15 मिनट पहले भेजना यकीनी बनाएं , जिससे मौके पर ही मॉक पोल की प्रक्रिया देखी जा सके।
 श्रीमती ईशा कालिया ने बताया कि लोक सभा मतदान में ई.वी.एम. और वी.वी.पी.ए.टी. मशीनों का प्रयोग किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि वी.वी.पी.ए.टी. (वोटर वैरीफीएबल पेपर आडिट ट्रेल) छोटे से प्रिंटर जैसी मशीन है, जो ई.वी.ऐम. (इलैक्ट्रॉनिकस वोटिंग मशीन) के साथ जुड़ी होती है। वी.वी.पी.ए.टी. के द्वारा वोटर संबंधित उम्मीदवार का सीरियल नंबर, नाम और चुनाव चिन्ह 7 सैकेंड के लिए डिसप्ले में देख सकता है, जिसको उसने वोट डाली है। इसके बाद यह स्लिप मशीन के साथ लगे डिब्बे में गिर जाएगी, जो डिब्बे में सील्ड रहेगी और कोई भी अन्य उसको देख नहीं सकेगा।
 —–

About The Author

Leave a reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *