Select Page

डीएवी सीनियर सेकेंडरी स्कूल होशियारपुर का वार्षिक पारितोषिक वितरण समारोह 

डीएवी सीनियर सेकेंडरी स्कूल होशियारपुर का वार्षिक पारितोषिक वितरण समारोह 

होशियारपुर (रुपिंदर ) डीएवी सीनियर सेकेंडरी स्कूल होशियारपुर का वार्षिक पारितोषिक वितरण समारोह स्कूल परिसर में आयोजित किया गया। इस दौरान सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता राज्यमंत्री विजय सांपला मुख्य अतिथि थे। कार्यक्रम की अध्यक्षता डीएवी कॉलेज मैनेजिंग कमेटी होशियारपुर के अध्यक्ष डॉ अनूप कुमार ने की जबकि कमेटी के सचिव पूर्व प्रिंसिपल डीएल आनंद बतौर विशेष अतिथि कार्यक्रम में सम्मिलित हुए।
कार्यक्रम का आगाज मुख्य अतिथि द्वारा दीप प्रज्वलित करने के साथ हुआ। इस अवसर पर डीएवी कॉलेज मैनेजिंग कमेटी के अध्यक्ष डॉ अनूप कुमार ने अतिथियों का स्वागत किया। उन्होंने विद्यार्थियों को जीवन में मेहनत का महत्व समझाते हुए कहा कि सफलता के लिए कोई शॉर्टकट नहीं होता केवल सच्ची लगन से मेहनत करना ही सफलता की कुंजी है। उन्होंने कहा कि आज के मुख्यातिथी श्री सांंपला इस बात की जीती जागती मिसाल खुद हैं।

इस दौरान अपने संबोधन में मुख्य अतिथि केंद्रीय राज्यमंत्री विजय सांपला ने कहा कि आज समाज को मूल्यपरक शिक्षा की जरूरत है। उन्होंने डीएवी संस्थाओं की ओर से शिक्षा के प्रसार और विद्यार्थियों में नैतिक मूल्यों के उन्नयन के लिए किए जा रहे प्रयासों की सराहना की। सांपला ने विद्यार्थियों के विकास और उन्नयन के लिए स्कूल को अडॉप्ट करने की घोषणा करते हुए विकास में हर प्रकार के सहयोग का वादा किया।

बच्चों से मुखातिब होते हुए विशेष अतिथि डीएवीसीएमसी सचिव प्रिंसिपल डीएल आनंद ने विद्यार्थियों को मेहनत और लगन के साथ पढ़ाई करके आगे बढ़ने और शिक्षा के साथ-साथ अन्य शिक्षा सहायक गतिविधियों पर भी बढ़ चढ़कर भाग लेने के लिए बधाई दी और उन्हें देश सेवा के लिए प्रेरित किया।

स्कूल की प्रिंसिपल मोनिका सूद ने स्कूल की वार्षिक रिपोर्ट प्रस्तुत की और बताया कि स्कूल के विद्यार्थियों ने अकादमिक गतिविधियों के साथ-साथ खेल व शिक्षा सहायक गतिविधियों में भी राष्ट्रीय स्तर तक उपलब्धियां हासिल की हैं।

सांस्कृतिक  कार्यक्रम का आगाज़ छात्रा खुशी द्वारा सरस्वती वंदना की प्रस्तुति के साथ हुआ। स्कूल के प्राइमरी कक्षाओं के विद्यार्थियों द्वारा प्रस्तुत डांस मैशअप और डांंस मेडले प्रशंसनीय रहे। विद्यार्थी जीवन में अपने माता-पिता  बड़ों और अध्यापकों  की सलाह पर अमल करने के लाभ और उनकी अनदेखी के नुकसान का खुलासा करती लघु नाटिका ‘तुहाडी जिंदगी दा फैसला’ खूब सराही गई । नन्हेंं बच्चों की ओर से पंजाबी गीतों आधारित प्लाजो और मासूमियत से भरपूर बाल गीतों पर आधारित कोरियोग्राफी रे मामा रे मामा रे ने खूब तालियां बटोरी।

स्कूल के छात्रों की ओर से प्रस्तुत हास्य नाटिका ‘कैसे होगा स्वच्छ भारत’ ने जहां खूब हंसाया वहीं साफ-सफाई की आदत डाल कर देश को स्वच्छ बनाने की प्रेरणा भी दी। स्कूल के सीनियर व जूनियर छात्रों की ओर से प्रस्तुत फैशन शो सराहनीय रहा तो भांगड़ा की ताल पर पंडाल में मौजूद हर कोई झूम उठा। इस दौरान अकादमिक गतिविधियों में अव्वल रहने वाले विद्यार्थियों के साथ साथ खेल, एनसीसी व अन्य शिक्षा सहायक गतिविधियों में विभिन्न उपलब्धियां हासिल करने वाले विद्यार्थियों को पुरस्कृत किया गया।इस अवसर पर डीएवी कॉलेज मैनेजिंग कमेटी के पदाधिकारी, सदस्य, सहयोगी संस्थाओं के प्रिंसिपल, प्रोफेसर, अध्यापक व स्टाफ सदस्य और विद्यार्थियों के अभिभावक भी उपस्थित थे।

About The Author

Leave a reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *