Select Page

रयात बाहरा स्कूल में डॉ. सुखमीत ने दुषित पानी से फैलने वाली बिमारियों के बारे में बच्चों को बताया ।

रयात बाहरा स्कूल में डॉ. सुखमीत ने दुषित पानी से फैलने वाली बिमारियों के बारे में बच्चों को बताया ।

होशियारपुर। रयात बाहरा इंटरनेशनल स्कूल में स्वास्थ्य संभाल मुहिंम दौरान सेमीनार करवाया गया जिस में रयात बाहरा के मेडीकल अ$फसर डॉ. सुखमीत बेदी ने दुषित पानी से पैदा होने वाली बिमारियों के बारे में विस्तारपूर्वक जानकारी दी । इस सेमीनार में स्कूल के सभी छात्रों व अध्यापकों ने हिस्सा लिया । इस मौके पर डॉ. सुखमीत ने कहा कि दुषित पानी से पैदा होने वाले सूक्ष्मजीव मनुष्य के जीवन के लिए खतरा बन सकते हैं जिनसे टाइफाइड का बुखार , हैजा , हेपीटाइटिस ए और दस्त लगने जैसी बिमारियां मनुष्य को अपना शिकार बना लेती हैं ।
डॉ. सुखमीत ने गंदगी और इनफेक्शन बारे बताते हुए कहा कि बैक्ट्रीयां , वाइरिस और परजीवी जीवाणू पानी को दुषित अवश्य करते हैं और बिमारी का कारण बनते हैं उन्होनें कहा कि जल ही जीवन है अगर हम जल के दुषित रुप को इस्तेमाल में लाएंगे तो यह हमारे लिए बिमारियों का मुख्य कारण बन सकता है और यह जानलेवा भी हो सकता है । डॉ. सुखमीत ने कहा कि इसलिए हमें पानी उबाल के ही इस्तेमाल करना चाहिये या फिर फिल्टर करके पानी पीना चाहिये या फिर पीने वाले पानी को मिट्टी के घड़े में रखना चाहिये । उन्होनें कहा कि पीने वाले पानी को तांबे के बर्तन में भी रखा जा सकता है क्योंकि अन्य बर्तनों के मुकाबले तांबा पानी को ज्यादा शुद्ध रख सकता है । इस मौके पर स्कूल के प्रिंसीपल एपीएस चावला ने डॉ. सुखमीत बेदी का धन्यवाद किया और कहा कि रयात बाहरा ग्रुप जहां बच्चों की पढ़ाई को प्रमुख्यता देता है वहीं बच्चों के स्वास्थ्य प्रति भी ध्यान रखता है ।

About The Author

Leave a reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *