Select Page

39 भारतीय की मौतः बेटे की लाश देख फूट-फूट कर रोर्इ मां

39 भारतीय की मौतः बेटे की लाश देख फूट-फूट कर रोर्इ मां

जनगाथा / ईराक के मोसुल में आतंकियों द्वारा अपहरण कर मौत के घाट उतार दिए गए 39 भारतीय नौजवानों में शामिल सरहदी तहसील अजनाला के नौजवान निशान सिंह का आज उसके पैतृक गांव संगूआना में गमगीन महौल में ताबूत उबलने से बिना बंद ताबूत ही अंतिम संस्कार कर दिया गया।
इस दौरान हलका विधायक हरप्रताप सिंह अजनाला, सांसद गुरजीत सिंह औजला, डी.एस.पी. अजनाला रविन्द्रपाल सिंह ढिल्लों, ब्लाक विकास अधिकारी पवन कुमार हर्षा छीना आदि अधिकारियों के अलावा इलाके के लोग भी बड़ी संख्या में मौजूद थे।बताने योग्य है कि जब गुरु रामदास अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डे से शाम 5.40 बजे के करीब एम्बुलैंस  द्वारा निशान का मृतक शरीर उस के गांव पहुंचा तो प्रशासन के मना करने के बावजूद भी परिजन जिद करके मृतक शरीर श्मशानघाट ले जाने की बजाय अपने घर ले गए। इस दौरान उसके बुजुर्ग माता-पिता व करीबी रिश्तेदारों की रोने की आवाजें सुन वहां मौजूद हरेक व्यक्ति की आंखें छलक उठीं।

इसी दौरान प्रैस के रू-ब-रू होते सांसद गुरजीत सिंह औजला और विधायक हरप्रताप सिंह अजनाला ने पंजाब सरकार की ओर से पीड़ित परिवारों की मदद के लिए किए ऐलान के लिए जहां मुख्यमंत्री पंजाब कैप्टन अमरेन्द्र सिंह का धन्यवाद किया, वहीं उन्होंने केंद्र सरकार से पुरजोर शब्दों में मांग की कि वह भी पीड़ित परिवारों की दिल खोल कर बनती मदद करे। इस मौके कांग्रेस के ब्लाक प्रधान हरपाल सिंह खानोवाल, राजबीर सिंह, परमिन्द्र सिंह, अरविन्द्र जैंटी, इंस्पैक्टर निर्मल सिंह, सैक्रेटरी हरजोत सिंह, पंचायत अधिकारी गुरभेज सिंह, कुलदीप सिंह, अंग्रेज सिंह, गुरदेव सिंह, हरभजन सिंह, सुबेग सिंह, राजबीर सिंह, चमकौर सिंह, राजविन्द्र सिंह, मास्टर लखविन्द्र सिंह, मनजीत सिंह, गुरिन्द्र सिंह व अन्य उपस्थित थे।

About The Author

Leave a reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *