Select Page

जब मोदी और सांपला मुर्दाबाद के नारों से गुंजी होशियारपुर की सड़कें , बाजार पूर्ण तौर पर बंद

जब मोदी और सांपला मुर्दाबाद के नारों से गुंजी होशियारपुर की सड़कें , बाजार पूर्ण तौर पर बंद

जनगाथा / होशियारपुर/ पिछले कुछ दिनों सें चल रही 2 अप्रैल को भातर बंद की काल लेकर सारा जिला प्रशासन इस बात को लेकर परेशान था कि 2 अप्रैल को किसी भी प्रकार का दलित और स्वर्ण वर्ग में तनाव न हो जाए  इसी को लेकर जिला प्रशासन और पुलिस बल रात दिन इसी को लेकर अधिकारियों के साथ वैठके कर रहा था और इसका हल निकालने की कई प्रकार की योजनाए बना रहा था। एक दिन पहले पुलिस द्वारा शहर की सुरक्षा को लेकर एक फ्लैग मार्च भी निकाला गया था। किसी भी प्रकार की घटना से निपटने के लिए पुलिस ने बाहर से भी पुलिस के पांच दस्ते एक दिन पहले ही शहर में तैनात कर दिए थे। केवल एक ही ट्रेन गई जलंधर के लिए- होशियारपुर रेलवे स्टेशन पर जाकर देखा तो वहां पर जिला और रेलवे पुलिस भारी फोर्स में तैनात थी। बात करने पर आरपीएफ के चौंकी इंचार्ज मंगतअली ने बताया कि सुवह दिल्ली से होशियारपुर आने वाली गाड़ी अपने निर्धारित समय पर होशियारपुर पहुंच गई थी और उसके बाद जलंधर से होशियारपुर डीएमयु भी अपने निर्धारित समय पर आई और जलंधर के लिए रवाना हुई। बाद में कोई भी ट्रेन जलंधर से होशियारपुर के लिए रवाना नही हुई थी। जलंधर फोन पर बात करने पर पता चला कि जो ट्रेन फिरोजपुर से होशियारपुर को आ रही थी उसको भी खोजेवाल रेवले स्टेशन पर ही रोक दिया गया है। और शाम तक कोई भी ट्रेन न तो जलंधर से होशियारपुर आई और न ही होशियारपुर से जलंधर के लिए रवाना हुई। यात्री स्टेशन पर गाड़ी का इंतजार करते रहे। सुवह छह बजे के बाद कोई बस नही निकली सड़क पर-होशियारपुर बस स्टेंड से केवल एक ही बस सुवह छह बजे के करीब होशियारपुर से हिमाचल की तरफ निकली थी
और उसके बाद कोई भी बस न तो होशियारपुर के लिए आई और न ही होशियारपुर से किसी दुसरे शहर के लिए रवाना हुई। पंजाब सरकार ने एक दिन पहले ही पंजाब में सरकारी और गैर सरकारी बसों के चलने पर पाबंदी लगा दी थी। दलित वर्ग अलग-अलग वर्गों में कर रहा था शहर की निगरानी- सूप्रीम कोर्ट
द्वारा दिए एक फेसले के गुस्साए दलित वर्ग ने भारत बंद की काल 2 अप्रैल को पूरी तरह से सफल बनाने के लिए सारा दलित वर्ग एक जुट हो गया और इस बंद
को सफल बनाने के लिए सारा दलित वर्ग अलग-अलग वर्गों के बंट गया और सुवह से शाम तक सड़कों और रेलवे स्टेशन पर निगरानी कर रहा था। बहुजन समाज पार्टी का एक विशाल जत्था ठेकेदार भगवान दास की अध्यक्षता में शहर के अलग-अलग हिस्सों से होता हुआ बाद दोपहर बाबा साहिव भीम रायो अंबेदकर की प्रतिमा बस स्टेंड के पास जाकर एक विशाल धरने को संवोधित करते हुए केन्द्र सरकार के खिलाफ खुल कर नारेबाजी की। विजय सांपला और प्रधान मंत्री का किया किसी प्रकार का पिट-स्यापा- सुवह भगवान वाल्मीकि धर्म रक्षा समिति के स्टेट प्रधान विकास हंस और डाक्टर अंबेदकर टाईगर फोर्स के सदस्यों ने सारे शहर में एक विशाल रोष रैली भी निकाली इस अवसर पर केन्द्रिय मंत्री और होशियारपुर के लोक सभा मैंबर विजय सांपला के खिलाफ खुल कर नारेबाजी की। विजय सांपला को कौम का गद्दार तक बोल कर नारेबाजी की गई। इस अवसर पर दलित वर्ग द्वारा प्रधान मंत्री नरिन्द्र मोदी के खिलाफ भी खुल कर नारेबाजी की गई। महिलएं भी एक जुट होकर आई सामने- महिला दलित वर्ग भी एक विशाल जलूस के रुप में 2 अप्रैल के भारत बंद में शामिल होने के लिए सड़कों पर उतर आया। सुवह वाल्मीकि मोहल्ला से एक विशाल महिला जत्था केन्द्र सरकार के खिलाफ मुर्दाबाद के नारे लगाता हुआ शहर के अगल अलग बाजारों से होता हुआ सरकारी कालेज होशियारपुर के सामने रुका यहां पर रविदास सभाओँ के अलग-अलग प्रतिनिधियों ने इस महिला जत्थे का स्वागत किया।
पुलिस प्रमुख कर रहे थे शहर की निगरानी- बंद को लेकर जिला पुलिस प्रशासन किसी भी अप्रिय घटना नही होने देने के लिए किसी भी प्रकार का जोखिम उठाने
को त्यार नही थी। जिला पुलिस प्रमुख जे.ईलनचेलियन सुवह से ही लगातार शहर की निगरानी कर रहे थे और प्रदर्शन कर रहे दलित वर्ग को शांतमई तरीके से
विरोध करने का आदेश दे रहे थे।

वाल्मीकि वर्ग ने किया शहर निवासियों और दुकानदारों का धन्यवाद-जिला होशियारपुर में बंद को मिला शहर निवासियों और दुकानदारों का पूर्ण समर्थ
को देखते हुए भगवान वाल्मीकि धर्म रक्षा समिति के स्टेट प्रधान विकास हंसने शहर निवासियों का धन्यवाद करते हुए कहा कि शहर निवासी यह बात अच्छी
तरह से जानते और समझते है कि सुप्रीम कोर्ट द्वारा लिया गया फैसला दलित वर्ग के साथ अन्याए है। इसी के चलते सारे शहर ने दलित वर्ग का साथ दिया
और बंद को शांतमई तरीके से कामयाब करने में दलित वर्ग की मदद की।

About The Author

Leave a reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

No announcement available or all announcement expired.