Select Page

शिक्षा के क्षेत्र में नया अध्याय जोडऩे के लिए ‘समर्पण’ बनी जन मुहिम

शिक्षा के क्षेत्र में नया अध्याय जोडऩे के लिए ‘समर्पण’ बनी जन मुहिम

जनगाथा , होशियारपुर, । जिला प्रशासन होशियारपुर की ओर से शिक्षा के क्षेत्र में एक नया अध्याय जोडऩे के लिए शुरु किए गए ‘समर्पण’ प्रौजेक्ट ने जन मुहिम का रुप धारण कर लिया है। अब तक 7 हजार के करीब दानी सज्जन समर्पण के सदस्य बन चुके है और इन के योगदान के चलते ही लाखों रुपये का फंड भी इकट्ठा हो चुका है। प्रशासन ने जहां पहल कदमी करते हुए दानी सज्जनों के सहयोग से करीब 1200 प्राइमरी स्कूलों को करीब डेढ़ करोड़ रुपये की लागत से वाइटवाश करवाया गया था वहीं अब समर्पण प्रौजेक्ट की शुरुआत अपने आप में एक निवेकली पहल है।

इस संबंधी जानकारी देते हुए डिप्टी कमिश्नर श्री विपुल उज्जवल ने बताया कि बुद्घिजीवी व्यक्तियों से किए गए विचार विमर्श के बाद समर्पण स्कीम शुरु की गई है ताकि सरकारी स्कूलों में एक बढिय़ा माहौल पैदा किया जा सकें। उन्होंने बताया कि इस प्रयास के तहित दानी सज्जनों के सहयोग से इकट्ठे किए गए शिक्षा सहायता फंड से सरकारी स्कूलों के बुनियादी ढांचे को मजबूत किया जाएगा। उन्होंने बताया कि समर्पण तहित सरकारी स्कूलों के अध्यापकों के भीतर एक भावना पैदा की जा रही है कि वे अपने स्कूलों के लिए योग कदम उठाएं, ताकि सरकारी स्कूलों को उच्च मुकाम तक पहुंचाया जा सकें। उन्होंने बताया कि जिले के शिक्षा विभाग की ओर से इस प्रौजेक्ट को जन मुहिम बनाने के लिए पूरी मेहनत से प्रयास किए जा रहे है। इस की बदौलत अब तक करीब 7 हजार दानी सज्जन समर्पण के सदस्य बन चुके है। उन्होंने बताया कि जिले के 19 शिक्षा ब्लाकों में 19 ब्लाक प्राइमरी शिक्षा अफसर (बीपीईओज) तथा 19 प्रिंसीपल नोडल अफसर के तौर पर सेवाएं निभा रहे है। उन्होंने बताया कि समर्पण के तहित अधिक से अधिक जागरुकता फैलाने के लिए बीपीईओज प्राइमरी स्कूलों के अध्यापकों को प्रेरणा दे रहे है जब कि प्रिंसीपल हाई तथा सीनियर सैकेंडरी स्कूलों के अध्यापकों को मोटीवेट कर रहे है। उन्होंने बताया कि ब्लाक बुल्लोवाल में बीपीईओ भुपेश शर्मा तथा प्रिंसीपल सुरेश कुमारी 610 सदस्यों को समर्पण प्रौजेक्ट से जोड़ा गया है जब कि प्रिंसीपल तरलोचन सिंह तथा बीपीईओ परमजीत कौर की ओर से 600 सदस्य बनाए गए है। इस के अलावा प्रिंसीपल हरजिंदर कौर की ओर से 430 के अलावा व्यक्तिगत तौर पर भी अध्यापक समर्पण मुहिम को आगे तक ले ज रहे है। उन्होंने समर्पण में योगदान डालने तथा सदस्य बनने के लिए दानी सज्जनों का धन्यवाद करते हुए आशा जताई कि जिस तरह होशियारपुर जिला शिक्षा के क्षेत्र में मोहरी रोल अदा कर रहा है उसी तरह समर्पण प्रोजेक्ट से भी होशियारपुर एक नया अध्याय कायम करेगा।

श्री विपुल उज्जवल ने बताया कि दानी सज्जन यह दान जन्मदिन, शादी की सालगिरह या अन्य विशेष याद के लिए भी दे सकते है। उन्होंने बताया कि एक पर्ची 365 रुपये की होगी तथा एक दिन के एक रुपये के हिसाब से एक दानी सज्जन 365 रुपये किसी विशेष दिन के लिए दान भी कर सकता है। उन्होंने बताया कि इस स्कीम के तहत जिले के सरकारी स्कूलों को भी आवश्यकता अनुसार सहायता मुहैय्या करवाई जाएगी तथा फंड स्कूलों के वैल्फेयर फंड में डिजीटल ट्रांस्फर किया जाएगा ताकि स्कूलों की आरंभिक जरुरते पूरी हो सकें। उन्होंने बताया कि दान करने वाले दानी सज्जन को संस्था की ओर से वाहन पर लगाने के लिए एक विशेष स्टिकर भी मुहैय्या करवाया जाएगा जिस से साबित होगा कि वे समर्पण से जुड़ा हुआ है।

श्री विपुल उज्जवल ने अपील करते हुए कहा कि ‘समर्पण’ में समर्पण भावना से जुडऩे के लिए आगे आने की आवश्यकता है ताकि सरकारी स्कूलों की बुनियादी कमियों को पूरा करके शिक्षा का स्तर और मजबूत किया जा सकें। उधर आज जिला लोक संपर्क अफसर हाकम थापर तथा समूह स्टाफ ने समर्पण के तहित उप जिला शिक्षा अफसर (एली.) धीरज वशिष्ट से पर्ची कटवाई, जब कि जिला सामाजिक सुरक्षा अफसर जगदीश मित्तर की ओर से दो पर्चियां कटवा कर योगदान डाला गया।

About The Author

Leave a reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

No announcement available or all announcement expired.