Select Page

होशियारपुर पुलिस ने सुपारी किलर गैंगस्टर राजीव राजा गैंग के 8 सदस्यों को गिरफ्तार किया

होशियारपुर पुलिस ने सुपारी किलर गैंगस्टर राजीव राजा गैंग  के 8 सदस्यों को गिरफ्तार किया

जनगाथा / होशियारपुर / अरपित शुकला आई.पी.एस.आई.जी.पी. साहिब जालंधर जोन, जसकर्ण सिंह आई.पी.एस.  डी.आई.जी. साहिब जालंधर रेंज की हिदायतों के अनुसार जे.इलनचेलीयन आई.पी.एस. सीनियर पुलिस कप्तान होशियारपुर द्वारा  दिए गए दिशा निर्देशों के अनुसार हरप्रीत सिंह मंडेर पी.पी.एस. पुलिस कप्तान जांच की निगरानी में जिला होशियारपुर में स्पैशल  नाकाबंदी की गई। हरियाना के इलाके में सुपारी किलर गैंगस्टर राजीव राजा गैंग के 8 सदस्यों को गिरफ्तार करने में बड़ी  कामयाबी हासिल की है। जसकर्ण सिंह आई.पी.एस. डी.आई.जी. जालंधर रेंज ने प्रैस कान्फ्रैंस द्वारा जानकारी देते हुए बताया कि  एस.आई. यादविंदर सिंह थाना प्रभारी ने बताया कि उसने पुलिस पार्टी सहित नाकाबंदी बस स्टैंड ढोलवाहा मौजूद था तो अमृत  सिंह पुत्र जतिंदर सिंह निवासी कंदनपुरी लुधियाना, सतनाम सिंह पुत्र शमशेर सिंह निवासी लोंगोवाल लुधियाना, जतिंदर सिंह पुत्र  कर्णजीत सिंह निवासी अंबगढ़ करतारपुर, शुभम पुत्र राजेश कुमार निवासी लाडोवाल लुधियाना को दौराना नाकाबंदी रुकने का  इशारा किया जो उक्त आरोपियों ने कार नंबर पी.बी.07. ए. एस. 7638 को पुलिसपार्टी  कर्मचारियों को मार देने की नीयत से  चढ़ाने लगे जो कर्मचारियों ने भाग कर जान बचाई व मौके से कार को भगा लिया। जिनको एस.आई. ने पुलिस पार्टी सहित काबू  करके नाम पता पुछा तो तलाशी के दौरान 435 ग्राम नशीला पाऊडर, एक पिस्टल, 3 जिंदा रौंद 32 बोर व नकली नंबर प्लेट  कार वरना बरामद हुई। पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है। उन्होंने बताया कि जांच के दौरान आरोपी सतनाम सिंह, अमृत सिंह व  शुभम ने बताया कि राजीव राजा पुत्र रामपाल निवासी मोहल्ला ताजगंज जिला लुधियाना जो कि इस समय जिला जेल संगरूर में  बंद है। उसके साथ उनका मोबाइल पर सम्पर्क होता है तथा आरोपी सतनाम सिंह के साथ जिला जेल संगरूर में बंद रहा है तथा  उसके साथ मुलाकात तारीख पेश्यिों पर अदालत में जाते समय होती रही है। जो जेल में से राजीव राजा विभिन्न मोबईल नंबर से  काल करके हमसे सम्पर्क करता है। राजीव राजा कहता था कि उसकी जंग निवासी कनाडा तथा ज्योति, पिं्रस निवासी खुर्दा के  साथ डील हुई है कि उनकी विरोधी पक्ष के किसी भी सदस्य को मार देने पर वह 35 लाख रुपए देंगे जिसमें से पहली किश्त 10  लाख रुपए उन्होंने हासिल कर ली है। जो इन पैसों में से 7 लाख रुपए राजे का बंदा ले गया तथा बाकी पैसे सतनाम, अमृत व  शुभम ने आपस में बांट लिए। जो इस वारदात को अंजाम देने के लिए इस ऐरिया की रैकी करने के लिए आए थे। इनके तीन सा थी चेतन शर्मा पुत्र सुभाष शर्मा कोम पंडित निवासी मोहल्ला सिविल सिटी वार्ड नंबर 31 लुधियाना, हेमांक पुत्र हरीश जोशी  निवासी लुधियाना व तजिंदर सिंह पुत्र मिट्ठू सिंह कौम जट्ट निवासी लोंगोवाल जिला संगरूर ने एक अलग स्कूटरी पर सवार होकर  इस ऐरिया में रैकी कर रहे थे। जिनको पुलिस कर्मचारियों ने पुल नहर काहलवां से गिरफ्तार किया। उक्त हेमांक की तलाशी करने  पर उससे एक पिस्टल 12 बोर सहित 3 कारतूस 12 बोर बरामद हुए तथा स्कूटरी नंबर पी.बी.10डी.जे.1579 बरामद हुई। पुछताश  के दौरान यह बात सामने आई है कि इस सारे ऐरिया की रैकी अतिंदरपाल सिंह पुत्र अजीत सिंह निवासी ढंडियाला थाना टांडा व  हरदीप सिंह निवासी खुर्दा ने करवाई। जिसमें से अतिंदरपाल सिंह को बैलीनो कार सहित बस स्टैंड भीखोवाल से पुलिस  कर्मचारियों ने गिरफ्तार किया।आरोपी हरदीप सिंह की गिरफ्तारी बाकी है तथा जांच जारी है। जांच के दौरान एक और बात सामने  आई है कि इन्होंने कुछ दिन पहले एक इनोवा कार नंबर पी.बी.10.ए.एफ.2668 जो लुधियाना से किराए पर ली थी। गांव धू तकलां के बस स्टैंड के पास ड्राइवर के पेसाब करने उतरने पर गाड़ी भगाकर ले गए, जिस संबंधी पहले ही मामला दर्ज है। आरो िपयों को अदालत में पेश किया जा रहा है।

 

About The Author

Leave a reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *