Select Page

राष्ट्रपति चुनाव: प्रकाश सिंह बादल पर खेल सकती हैं भाजपा बड़ा दाव

राष्ट्रपति चुनाव: प्रकाश सिंह बादल पर खेल सकती हैं भाजपा बड़ा दाव

जनगाथा , नर्इ दिल्लीः राष्ट्रपति चुनाव की तारीख नजदीक आते ही कयासों का बाजार गर्म होने लगा हैं। इसी के मद्देनजर सत्ताधारी बीजेपी द्वारा सोमवार को 3 सदस्यीय कमेटी का गठन किया गया। अटकलें हैं कि बीजेपी की ओर से शिरोमणि अकाली दल के सीनियर लीडर और पंजाब के पूर्व सीएम प्रकाश सिंह बादल को राष्ट्रपति पद का उम्मीदवार बनाया जा सकता है।

बादल पर हो सकती हैं सहमति
सूत्रों की माने तो भाजपा अपने सहयोगी दलों में भी विश्वास पैदा करने और राकांपा  जैसे दल को साथ लाने के लिए बादल पर दांव खेल सकती है। भाजपा का मानना है कि बादल के नाम पर न केवल एनडीए, बल्कि यूपीए की कुछ पार्टियां जैसे राकांपा भी सहमति दे सकती हैं। एनसीपी के एक शीर्ष नेता ने बताया कि भाजपा अध्यक्ष अमित शाह से हमें बादल साहिब के बारे में संकेत मिला। उनका विरोध करना मुश्किल होगा। अकालियों के साथ आपातकाल के खिलाफ लड़ने वाली डीएमके जैसी पार्टियां भी उनके नाम को चुनौती नहीं देंगी।’
सरकार के पास करीब 24000 वोट हैं कम
विपक्षी पार्टियों की बात करें तो वे बीजेपी की ओर से सहमती वाले कैंडिडेट के नाम   को लेकर आश्वस्त नजर नहीं आ रहीं। राकांपा नेता तारिक अनवर ने बताया, ‘हमें नहीं लगता कि बीजेपी किसी आर.एस.एस. बैकग्राउंड वाले शख्स को नजरअंदाज करके बादल को उम्मीदवार बनाएगी। सरकार के पास  24000 वोट ही कम हैं।’ अनवर राष्ट्रपति चुनाव को लेकर विपक्षी नेताओं की उप-कमेटी के सदस्य हैं। उन्होंने कहा, ‘अगर हमें कैंडिडेट फाइनल करना हुआ तो हम ऐसा 24 जून तक करेंगे।
नायडू की संभावनाएं खत्म
सूत्रों के अनुसार केंद्रीय मंत्री वेंकैया नायडू खुद राष्ट्रपति बनने के इच्छुक थे। मगर भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने उनकी महत्वाकांक्षा पर पानी फैरते हुए उनको उस सदस्यीय पैनल में शामिल कर दिया है जो विपक्षी दलों के साथ राष्ट्रपति पद के लिए सहमती बनाने हेतु बातचीत करेंगे।

17 जुलाई को होना है चुनाव
राष्ट्रपति चुनाव की अधिसूचना 14 जून को जारी की जाएगी। नामांकन भरने की आखिरी तिथि 28 जून है। साथ ही नामांकन पत्रों की स्क्रूटनी 29 जून और नामंकन पत्र को वापस लेने की तिथि 1 जुलाई । चुनाव आयोग ने कहा है कि यदि चुनाव आवश्यक हुआ तो 17 जुलाई को होगा। मतगणना 20 जुलाईं को संपन्न होगी।

About The Author

Leave a reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *