Select Page

गुरदासपुर लोकसभा सीट पर राजनीतिक सरगर्मी तेज, तीनों पार्टियों ने झोंकी ताकत

गुरदासपुर लोकसभा सीट पर राजनीतिक सरगर्मी तेज, तीनों पार्टियों ने झोंकी ताकत

जनगाथा , पठानकोट: गुरदासपुर-पठानकोट लोकसभा सीट पर उपचुनाव की अभी तक घोषणा नहीं हुई है लेकिन सभी राजनीतिक दलों ने तैयारी शुरू कर दी है। पार्टी सूत्रों के अनुसार इस सीट से भारतीय जनता पार्टी के वयोवृद्ध नेता मास्टर मोहन लाल लाल, पूर्व प्रदेशाध्यक्ष अश्विनी शर्मा और भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष अविनाश राय खन्ना में से किसी को भी टिकट दिए जाने की चर्चा है। विनोद खन्ना की विधवा कविता खन्ना भी इस सीट से चुनाव लडऩे की इच्छा जता चुकी हैं। 

खन्ना के बड़े पुत्र अक्षय कुमार खन्ना के मैदान में उतरने की चर्चा है। खन्ना की हाल में कैंसर से मौत हो गई। वह लंबे समय से अपना इलाज कराने के कारण इलाके में नहीं आए। खन्ना के निधन के कारण इस सीट पर उपचुनाव होना है। क्षेत्र की जनता अब किसी फिल्मी सितारे को टिकट देने के बजाय स्थानीय नेता को वोट देने के बारे में गंभीरता से विचार कर रही है जो उनके क्षेत्र की सुध ले सके। इस नूरा कुश्ती का नजारा पठानकोट शहर के लोगों को उस समय देखने को मिला जब क्षेत्र में जगह-जगह पर होर्डिंग नजर आए जिसमें अस्पताल तथा मैडिकल कालेज में सीनियर सिटीजन तथा औरतों के नि:शुल्क इलाज के वायदे किए गए हैं।

वहीं दूसरी ओर खन्ना के अपने समर्थकों में अपनी जगह बनाने के लिए खुद को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के स्वच्छता अभियान का हिस्सा बनने के लिए अपने हाथों से गंदगी तथा कूड़ा कर्कट उठाने का वीडियो सोशल साइट तथा स्थानीय मीडिया में वायरल हो रहे हैं। अन्य नेता भी इस तरह के हथकंडे अपना कर अपना जनाधार तलाशने निकल पड़े हैं। यह सब कुछ देखकर लगता है कि गुरदासपुर तथा पठानकोट संसदीय क्षेत्र में राजनीतिक सरगर्मी तेज होने वाली है। इस सीट पर मुख्य टक्कर अकाली-भाजपा गठबंधन तथा कांग्रेस के बीच होगी लेकिन आम आदमी पार्टी ने भी मैदान में उतरने का एलान कर रखा है। भाजपा के सांसद रहे खन्ना इस सीट से तीन बार चुनाव जीते थे।

About The Author

Leave a reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

No announcement available or all announcement expired.