मास्टरप्रेप ने होशियारपुर में खोला लैंगवेज सैंटर

    0
    87

    -आईलट्स, पी.टी.ई. और टॉफल ट्रेनिंग सैंटर में आधुनिक तरीके से दी जाएगी शिक्षा
    होशियारपुर। चंडीगढ़, मोहाली और लुधियाना जैसे बड़े शहरों में आईलट्स, पी.टी.ई. और टॉफल जैसे कोर्स सफलतापूर्वक करवा रही मास्टरप्रेप ट्रेनिंग इंस्टीट्यूट ने होशियारपुर के बस स्टैंड के समीप सिटी सैंटर में अपने सैंटर का शुभारंभ किया। सैंटर का उद्घाटन कैनम ग्रुप के डायरैक्टर अनुराज सिद्धू ने किया। इस मौके पर अनुराज सिद्धू ने कहा कि उनकी एजुकेशन कंमसलटिंग कंपनी द्वारा पहले विद्यार्थियों को जिन सैंटरों में रैफर किया जाता था उनके परिणाम आशा के अनुरुप नहीं होते थे। मगर जब से उन्होंने मास्टरप्रेप के पास विद्यार्थियों को भेजना शुरु किया है विद्यार्थियों की सफलता मास्टरप्रेप द्वारा करवाई जाने वाली मेहनत को दर्शाती है। उन्होंने कहा कि होशियारपुर के लिए यह बहुत मान वाली बात है कि यहां पर मास्टरप्रेप द्वारा सेवाएं प्रदान करने हेतु सैंटर खोला गया है। इस मौके पर मास्टरप्रेप की तरफ से सरनजीत सिंह जसवाल एवं रोशन सिंह ने बताया कि मास्टरप्रेप की तरफ से जल्द ही चंडीगढ़ व प्रदेश के अलग-अलग शहरों में और सैंटर खोले जा रहे हैं ताकि विदेश जाकर शिक्षा ग्रहण करने का सपना देखने वाले विद्यार्थियों को नए पंख प्रदान करके उन्हें उनकी मंजिल तक पहुंचने में सफलता प्रदान करने में योगदान डाला जा सके। उन्होंने बताया कि मास्टरप्रेप को दिल्ली में आयोजित एशियन एजुकेशन समिट में नार्थ इंडिया का सबसे अच्छा लैंगवेज इंस्टीट्यूट के अवार्ड से नवाजा गया है। यह अवार्ड सांसद किरन खेर ने प्रदान किया था तथा इस समारोह में केन्द्रीय मंत्री स्मृित ईरानी भी मौजूद थी। उन्होंने बताया कि होशियारपुर जोकि साक्षरता की दर में प्रदेश का नंबर एक जिला है के लोगों को बेहतर शिक्षण सुविधाएं प्रदान करने के लिए मास्टरप्रेप हर संभव प्रयास करेगा तथा यहां के लोगों के दिलों में अपनी जगह बनाने में कामयाब होगा।

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here