‘बाबा’ के खिलाफ हुए अनुयायी, राम रहीम और उनके परिवार के खिलाफ याचिका दायर

    0
    54

    जनगाथा / चंडीगढ़ / गुरमीत राम रहीम व उसके परिवार पर बीते वर्ष 25 अगस्त को हिंसा में अनुयायियों को भड़काने की आपराधिक गतिविधियों में शामिल होने सहित साजिश रचने की जांच व उसके आधार पर कार्रवाई होनी चाहिए। इसके अलावा संबंधित घटनाक्रम के दौरान डेरे से हटाई सम्पत्ति व पैसे की उचित जांच होनी चाहिए। जनता का पैसा बरामद किया जाना चाहिए।

    अपनी मांगों को लेकर सिरसा डेरा अनुयायी पटियाला के 72 वर्षीय सुखविंद्र सिंह व 10 सालों तक डेरे के पक्के सेवादार रहे सिरसा निवासी राम कुमार बिश्नोई ने पंजाब एवं हरियाणा हाईकोर्ट में एक याचिका दायर की है। जिस पर संभवत: अगले सप्ताह सुनवाई होगी। मामले में हरियाणा सरकार, डी.जी.पी. हरियाणा पुलिस, पुलिस कमिश्नर, पंचकूला, डेरा प्रमुख गुरमीत राम रहीम, उसके बेटे जसमीत सिंह, बेटी चमप्रीत कौर, बेटी अमरप्रीत इन्सां, उसके पति रुह-ए-मीत इन्सां व डेरा सच्चा सौदा निवासी नसीब कौर, शनिमीत इन्सां को मामले में पार्टी बनाया गया है।

    याचिका में मांग की गई है कि प्रतिवादी सरकारी पक्ष को आदेश दिए जाए कि गुरमीत राम रहीम सिंह समेत उसके पारिवारिक सदस्यों के रोल व साजिश रचने की जांच की जाए। मुख्य साजिशकर्ता गुरमीत राम रहीम सिंह व उसके पारिवारिक सदस्यों पर कानूनी कार्रवाई की जाए जिन्होंने मिलकर अनुयायियों को उकसाया व गुमराह किया कि गुरमीत राम रहीम सिंह को दोषी करार दिए जाने की स्थिति में 25 अगस्त को पंचकूला, सिरसा सहित पंजाब व हरियाणा के इलाकों में हिंसक घटनाएं करें। इसके अलावा प्रतिवादी सरकारी पक्ष को आदेश दिए जाए कि गुरमीत राम रहीम सिंह के 25 अगस्त को फरार होने की साजिश व देश के खिलाफ जंग छेडऩे की की उचित जांच की जाए व ट्रायल कोर्ट में रिपोर्ट फाइल करें। वहीं केस की जांच सी.बी.आई. को भी सौंपी जा सकती है।

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here