ड्राइविंग स्कूल मालिक  को अगवा कर जानलेवा हमला  करने वाले 7 लोगों के खिलाफ भी मामला दर्ज

    0
    160

    टांडा -उड़मुड़ (नीलकमल परमार )  अड्डा सरां में हुए एक ड्राइविंग स्कूल मालिक  को अगवा कर जानलेवा हमला करने  के संबंध में टांडा पुलिस ने दोनों पक्षों  से मिली  शिकायत के आधार पर दो मामले दर्ज किए है|   टांडा पुलिस ने जानलेवा हमले  का शिकार हुए ड्राइविंग स्कूल के मालिक  पवनदीप सिंह भेला पुत्र किरपाल सिंह निवासी मसीती के ब्यानों  के आधार पर धंनवीर खान उर्फ़ धन्ना, रुफान खान, मिंटू, मिंटू का बेटा सभी निवासी मिर्जापुर खडियाला तथा दो अज्ञात व्यक्तीओं के खिलाफ मामला दर्ज किया है। पुलिस को दिए अपने बयानों में पवनदीप सिंह ने बताया कि 20  जनवरी को जब वह जाजा चौंक स्थित अपने दफ़्तर में मौजूद था तो धंनवीर  खान ने ट्राला सीखने का बोल कर उसे ट्रैक पर बुलाया। संचालक ने बताया कि वह ग्राहक का समझ कर वहां पर पहुंचा तो वहां पर पहले से ही मौजूद रूफान खान और  इमरान खान पुत्र धनवीर खान मौजूद थे। इतने में टांडा साइड से इंडिका कार आई जिसे धनवीर खान चला रहा था। धनवीर तथा दो अज्ञात व्यक्ती गाड़ी  में से उतरे  तथा धनवीर और अज्ञात व्यक्तियों ने उसे दातर और  बेसबाल मार कर घायल  करते हुए घसीटते हुए ज़बरदस्ती गाड़ी में बिठा कर अगवा कर लिया। इसके बाद धनवीर के लड़कों ने कहा कि इसको यहीं पर ख़त्म कर देते हैं लेकिन धनवीर बोला कि इसको अड्डे पर ले चलते हैं जिसके बाद उसको अगवा कर के सरां अड्डे पर ले जा कर दूकान के बाहर धनवीर खान का भाई मिंटू व् उसका बेटा खड़े थे उनकी गाड़ी देख कर शटर उठा दिया व् सभी ने ज़बरदस्ती गाड़ी में से निकाल कर दूकान के अंदर ले गए तथा शटर बंद कर दिया। तेज़धार हथियारों  किरपान तथा बेसबाल के साथ कई वार कर के उसे घायल  कर दिया। उसके शोर मचाने पर लोगों तथा उसके दोस्त मंजीत सिंह कंधाला जट्टां, लखविंदर सिंह कलोया के इकट्ठे  होने पर शटर उठा कर उक्त लोगों ने उसे बाहर फैंक दिया। उसके साथीओं ने उसे सरकारी अस्पताल में भर्ती करवाया। पवनदीप सिंह ने रंजिश की वज़ह के बारे में बताया कि उसने धनवीर खान की बेटी मरजीना मुग़ल को कार ड्राइविंग सिखाई थी तथा सिखलाई का बकाया पैसा मांगने पर उसका बकाया देने के बजाए उसके साथ मारपीट की है। वही  लड़की मरजीना पुत्री धंनवीर खान निवासी मिर्जापुर के ब्यानों के आधार पर पवन के खिलाफ दर्ज किया है। पुलिस को दिए अपने ब्यान में मरजीना ने बताया कि वह पवन सर के कलगीधर घोड़ा ट्राला सेंटर से ड्राइविंग की ट्रेनिंग ले रही थी। इस दौरान पवन सर ने उसे वर्बली टॉर्चर किया किया और  कहा की मेरे साथ फ्रैंडशिप करो | जब उसने मना किया तो उसने कहा कि उसका ऑस्ट्रेलिया आ कर भी पीछा नहीं छोड़ेगा तथा कहा कि उसकी पहुंच बड़े कांग्रेस नेता तक है तथा वह कांग्रेस का युथ प्रधान है। उसने तीन बार गाड़ी के स्टीयरिंग पर हाथ मार कर डराया। डर के मारे मैंने उस समय घर नहीं बताया। मैंने वहां से सिखलाई लेना बंद कर दिया व् बाद में पवन सर उसे हर रोज़ जाजा बाईपास पर तंग करने लगे। आज जब अपनी कार सीख रही थी तो पवन ने उसको रोक कर परेशान करना शुरू कर दिया। उसने अपने पापा को फोन कर के बुला लिया तथा पवन सर झगड़ा करने लगे । उसके पापा उसे सरां पुलिस चौंकी ले आए पर चौंकी वालों ने उलटे उसके पापा को ही पकड़ लिया। पुलिस ने शिकायत के बाद पवन के खिलाफ मामला दर्ज कर अगली कार्रवाई  शुरू कर दी है।

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here