जल्‍द से जल्‍द छोड़ दें मीठे का लालच नहीं तो…

    0
    113

    हम सभी जानते हैं कि अधिक चीनी का सेवन हमारे स्वास्थ्य के लिए खतरनाक होता है, चाहे बात हमारी कमर की हो या हमारे मूड की। फिर भी हममें से अधिकांश को इसकी तलब रहती है। आइए जानते हैं कि शूगर की इस लत से कैसे छुटकारा पाया जा सकता है।

    शूगर कहां है यह जानें
    आप जानती हैं कि चॉकलेट, केक तथा कोला में शूगर होती है परन्तु कुछ ऐसी चीजें भी हैं जिनसे आप अनभिज्ञ रहती हैं कि उनमें भी शूगर हो सकती है। ब्रेकफास्ट सीरियल, फ्लेवर्ड दही, फल, कैचअप, सलाद ड्रैसिंग्स, पास्ता सॉस तथा अल्कोहल में शूगर की मात्रा काफी अधिक होती है। इस बात को सुनिश्चित करें कि आप लेबल जरूर पढ़ें।

    कुछ छोटे परिवर्तन करें
    शूगर का सेवन पूरी तरह बंद करने की बजाय धीरे धीरे बंद करने से इस प्रक्रिया की शुरुआत करें। अपनी चाय में चीनी थोड़ी कम कर दें, ऑरेंज जूस के स्थान पर फ्लेवर्ड वॉटर का सेवन करें तथा कुछ खाद्यों के अलग-अलग ब्रांड्स में शूगर की मात्रा चैक करें।

    ब्रेकफास्ट स्किप न करें
    ब्रेकफास्ट आपके ब्लड शूगर लैवल्स को स्थिर रखता है जिसका अर्थ है कि आपके मन में चॉकलेट का लालच कम पैदा होता है। एक आदर्श ब्रेकफास्ट में ओट्स या कुछ अंडे शामिल हो सकते हैं। अपना ब्रेकफास्ट कभी स्किप न करें।

    कसरत
    कसरत से तनाव का स्तर कम होता है। तनाव मीठे की तलब का मुख्य कारण होता है। कसरत से ब्लड शूगर का स्तर नियंत्रण में रहता है। साथ ही कसरत आपको ऊर्जावान बनाती है, अच्छी नींद देती है तथा आपकी फिटनैस और स्वास्थ्य में सुधार लाती है।

    विटामिन्स लें
    विटामिन बी तथा सी विशेष तौर पर लें जो हमें भोजन से ऊर्जा प्राप्त करने में सहायक होते हैं। शूगर के अन्य नाम जानें
    फ्रुकटोका, कॉर्न सिरप, सुक्रोका इत्यादि शूगर के अन्य रूप हैं। फूड लेबल्स पर शूगर के लगभग 61 ऐसे रूप लिखे होते हैं। इनकी जानकारी रखें।

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here