कोर्ट-कचहरी के चक्कर में AAP नेताओं का समय और पैसा हो रहा बर्बाद

    0
    52

    जनगाथा / नई दिल्ली  /  राजनीति में आने के बाद आम आदमी पार्टी (आप) के कई नेता मानहानि के मुकदमों से जूझ रहे हैं। अब अरविंद केजरीवाल ने पंजाब के पूर्व मंत्री बिक्रम मजीठिया से लिखित माफी मांगी है। इसके फैसले से पार्टी के अंदरूनी नेताओं से लेकर बाहरी लोग भी हैरान हैं। ‘आप’ सूत्रों के मुताबिक, यह सीएम केजरीवाल की खास रणनीति है। नेतृत्व ने फैसला लिया है कि सभी नेताओं पर चल रहे मानहानि के मुकदमों को जैसे-तैसे खत्म किया जाए। इसके लिए माफी भी मांगनी पड़े, तो भी वे तैयार हैं। मानहानि के मुकदमों की वजह से ‘आप’ नेताओं का समय अदालतों के चक्कर में बर्बाद हो रहा है। वे पार्टी के विस्तार पर ध्यान नहीं दे पा रहे हैं। कई राज्यों में संगठन बढ़ाना है। ‘आप’ नेता का कहना है कि अगले साल 2019 में लोकसभा के चुनाव होने हैं। संगठन के नेताओं को पूरी ताकत के साथ इसमें उतरना है। ऐसे में, यदि पार्टी के नेता कोर्ट-कचहरी में फंसे रहेंगे, तो जनता के बीच जाने का मौका नहीं मिलेगा। पिछले साल भी अरविंद केजरीवाल ने भाजपा के पूर्व सांसद अवतार सिंह भड़ाना से माफी मांगी थी। उन्होंने यहां तक कहा था कि अपने सहयोगी के बहकावे में आकर गलत आरोप लगाए।

    सनसनीखेज आरोपों से मीडिया पर जगह पाते रहे आप नेता
    अरविंद केजरीवाल के ऊपर ढेरों राजनेताओं के मानहानि मुकदमें चल रहे हैं। चुनाव से पहले केजरीवाल विरोधी दलों के नेताओं के खिलाफ आरोप लगाते रहे हैं। ‘आप’ रणनीतिकारों का मानना रहा है कि जब तक किसी विपक्षी नेता पर तीखे हमले नहीं बोलेंगे, तब तक जनता के बीच छाप नहीं छोड़ पाएंगे। सनसनीखेज आरोपों पर मीडिया भी तवज्जो देगा। पंजाब और दिल्ली विधानसभा चुनाव से पहले भी केजरीवाल ने इसी रणनीति के तहत प्रचार अभियान चलाया था। पंजाब के पूर्व मंत्री बिक्रम मजीठिया से तो केजरीवाल ने माफी मांग ली है, लेकिन उनके ऊपर ढेरों अन्य मानहानि केस चल रहे हैं।

    केजरीवाल पर चर्चित केस

    • 2013 में शीला दीक्षित के राजनीतिक सचिव पवन खेड़ा ने केजरीवाल पर केस किया था। तब उन्होंने टेलीविजन शो और प्रदर्शन के दौरान शीला पर अभद्र टिप्पणी की थी।
    • 2013 में ही कपिल सिब्बल के बेटे अमित सिब्बल ने भी केजरीवाल पर मानहानि का केस कर दिया, केजरीवाल ने उन पर आरोप लगाया था कि उन्होंने एक दूरसंचार कंपनी की पैरवी करने के लिए अपने पिता के पद का फायदा उठाया।
    • 2014 में नितिन गडकरी ने केजरीवाल पर मानहानि का मुकदमा कर दिया। केजरीवाल ने भारत के सबसे भ्रष्ट नेताओं की लिस्ट में नितिन गडकरी का नाम लिया।
    • अरुण जेतली ने केजरीवाल पर मानहानि के 2 केस किए हैं। पहला, डीडीसीए में भ्रष्टाचार के आरोप पर 10 करोड़ रुपए का मुकदमा, दूसरा मुख्यमंत्री दफ्तर पर रेड के मामले में जेतली का नाम घसीटने पर मुकदमा।
    • अवतार सिंह भड़ाना से भी केजरीवाल माफी मांग चुके हैं। इस केस में भी उन्हें राहत मिल गई थी। केजरीवाल ने 31 जनवरी 2014 को एक आपत्तिजनक बयान दिया था। इस बयान में उन्होंने कहा था कि भड़ाना देश के सबसे भ्रष्ट व्यक्तियों में से एक हैं।
    • 2013 में सुरेंद्र कुमार शर्मा ने उन पर केस किया था। ‘आप’ का टिकट ना देने और अपने खिलाफ अभद्र टिप्पणी के आरोप में सुरेंद्र ने केजरीवाल पर मानहानि का केस किया था।
    • 2016 में भाजपा सांसद रमेश बिधूडी ने अपने खिलाफ आधारहीन आरोप लगाने के लिए केजरीवाल पर मानहानि का केस किया।
    • 2016 में चेतन चौहान ने डीडीसीए मामले में अपने खिलाफ अभद्र टिप्पणी के बाद केजरीवाल पर मानहानि का केस किया।

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here