अरविंद सुब्रमण्यम के पीछे पड़े सुब्रमण्यम स्वामी, कहा- मोदी के खिलाफ दिया था बयान

    0
    114

    नई दिल्ली।  बीजेपी सांसद सुब्रमण्यम स्वामी रिजर्व बैंक गवर्नर रघुराम राजन के बाद अब देश के मुख्य आर्थिक सलाहकार अरविंद सुब्रमण्यम को अपना निशाना बनाया है।  सुब्रमण्यम ने अरविंद को भी पद से हटाने की मांग की है। अरविंद का नाम भी नए रिजर्व बैंक गवर्नर की चर्चा में है।

    सुब्रमण्यम स्वामी ने ट्वीट कर अरविंद सुब्रमण्यम पर साधा निशाना

    सुब्रमण्यम स्वामी ने ट्वीट कर अरविंद के खिलाफ मोर्चा खोला है। स्वामी के मुताबिक, अरविंद ने 2013 में यूएस कांग्रेस को भारत के खिलाफ एक्शन लेने के लिए कहा था। स्वामी ने ये भी आरोप लगाया कि 2013 में केंद्र में मोदी सरकार आने से पहले अरविंद ने स्थानीय दवा उद्योग के हित में अमेरिकी कांग्रेस से भारत के खिलाफ कार्रवाई करने को कहा

    स्वामी ने बुधवार सुबह अपने पहले ट्वीट में लिखा, “13-3-2013 को यूएस कांग्रेस से किसने कहा था कि अमेरिकी फार्मास्युटिकल कंपनियों के इंटरेस्ट बचाने के लिए भारत के खिलाफ कार्रवाई करनी चाहिए। अरविंद सुब्रमण्यम ने। उन्हें हटाइए।”
    अपने दूसरे ट्वीट में उन्होंने कहा- “मोदी के चीफ इकोनॉमिक एडवाइजर अरविंद अब तक आईपीआर (इंटलैक्चुअल प्रॉपर्टी) पर भारत का विरोध करते रहे हैं।”

    सुब्रमण्यम स्वामी

    कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह ने ली चुटकी 

    बाद में स्वामी राजनाथ से भी मिले। इस बीच, अरुण जेटली ने कहा है कि सरकार सुब्रमण्यम के साथ है, उन पर पूरा भरोसा है। इससे पहले, बीजेपी ने कहा कि ये स्वामी के निजी विचार हैं। उधर कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह ने चुटकी लेते हुए कहा है कि लक्ष्य अरविंद सुब्रमण्यन नहीं बल्कि अरूण जेटली है। अरुण जेटली ने ही अरविंद को देश का मुख्य आर्थिक सलाहकार बनाया था।

    रघुराम राजन पर भी लगा चुके हैं आरोप

    स्वामी ने राजन पर आरोप लगाया था कि वे जानबूझकर इंडियन इकोनॉमी को नुकसान पहुंचाना चाहते हैं। स्वामी ने ये भी कहा था कि राजन मानसिक तौर पर पूरी तरह भारतीय नहीं हैं और वह अपना यूएएस ग्रीन कार्ड रिन्यू कराते रहे हैं। स्वामी के लगातार हमलों के बीच राजन ने पिछले दिनों एलान किया था कि वे बतौर आरबीआई गवर्नर दूसरा टर्म नहीं चाहते।

    रघुराम के बाद अब केजरीवाल की बारी 

    स्वामी ने केजरीवाल पर भी निशाना साधते हुए कहा है कि “अपने पूरे जीवन में उन्होंने (केजरीवाल ) धोखाधड़ी की है। वह कहते हैं कि आईआईटी के मेधावी छात्र रहे हैं। लेकिन मेरे पास जानकारी है कि उन्होंने कैसे दाखिला लिया था। इसे मैं प्रेस कॉन्फ्रेंस में उजागर करूंगा। अब तक मैं राजन के पीछे पड़ा था और वे जा रहे हैं।”

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here